बूंदी प्रशासन शहरों के संग के पहले दिन बाटें 51 पट्टे, नियमो के तहत पट्टे बिना चक्कर कटवाए बनायें- पूर्व मंत्री शर्मा

 
बाटें 51 पट्टे

बूंदी। राजस्थान सरकार की ओर से गांधी जयंती 2 अक्टूबर के दिन प्रशासन शहरों की ओर अभियान का शुभारंभ किया गया। कार्यक्रम का राज्य स्तरीय शुभारंभ वर्चुअल मुख्यमंत्री अशोक गहलोत एवं स्वायत्त शासन मंत्री शांति कुमार धारीवाल ने किया। वही बूंदी जिला मुख्यालय पर इस कार्यक्रम की शुरुआत पूर्व वित्त राज्य मंत्री हरिमोहन शर्मा ने की।

मंचासिन

नगर परिषद बूंदी द्वारा कुंभा स्टेडियम स्थित अंबेडकर भवन में आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि पूर्व मंत्री हरिमोहन शर्मा ने कहा कि गांधीवादी सोच रखने और उस पर अमल करने वाले राजस्थान के यशस्वी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आम जन की भावनाओं एवं उनकी पीड़ा को समझते हुए राजस्थान में आज से प्रशासन शहरों की ओर, प्रशासन गांव की ओर अभियान का शुभारंभ किया है। लोगों को मकान- दुकान का पट्टा नही होने से कई तरह की समस्याएं सामने आती है, इस अभियान से उन्हे राहत मिलेगी। उन्होने निगर परिषद के कर्मचारियों को हिदायत देते हुए कहा कि यहां आने लोगो की फाईलों में अनावश्यक नोट लगाकर बाधा नहीं पहुंचाए, फिर उसी काम के लिए रास्ता बताया जाये ऐसा कतई नहीं होना चाहिए। जो भी सरकार के नियमो में आ रहे है सभी के पटटे बिना चक्कर कटवाए बनाये जाए।

संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि पूर्व मंत्री हरिमोहन शर्मा

इस अवसर पर पूर्व मंत्री शर्मा ने लोगों से आह्वान किया कि ज्यादा से ज्यादा पट्टे बनवा कर सरकार इस अभियान को सफल बनाएं, इस अवसर पर शहर के विकास के लिए स्वायत्त शासन मंत्री शांति कुमार धारीवाल द्वारा 140 करोड़ की जो घोषणा की है, उस योजना की डीपीआर बनकर तैयार हो चुकी है। बरसात का सीजन खत्म होने के बाद काम शुरू हो जाएंगे। इस अवसर पर उन्होंने जिला कलेक्टर से  शहर के विकास के लिए जो भी योजनाएं बने उस पर जल्द से जल्द अमलीजामा पहुंचाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि जिस तरीके से जिला कलेक्टर ने बूंदी में आकर शुरुआत की है और जिस तरीके से लोगों के रुझान सामने आ रहे हैं उससे लग रहा है कि बूंदी के हित में जिला कलेक्टर अच्छे फैसले लेगी। इस अवसर पर उन्होंने जिला कलेक्टर को गांधी उद्यान में पूर्व जिला कलेक्टर एसएस बिस्सा द्वारा बनाई गई समाधान छतरी के बारे में बताते हुए कहा कि यदि आप उन्हीं की तरह सप्ताह में 2 दिन उस छतरी में बैठकर जनसुनवाई करें तो जनता में एक अच्छा संदेश जाएगा। वैसे भी आप चेंबर में बैठकर भी जनसुनवाई करते ही हैं।

 इस अवसर पर जिला कलेक्टर रेनू जयपाल ने मंच से संबोधित करते हुए विश्वास दिलाया कि बूंदी जिले के विकास में किसी तरह की कोई बाधा नहीं आने दी जाएगी, जिला प्रशासन की ओर से नगर परिषद को पूरा सहयोग मिलेगा। उन्होंने इस अवसर पर बूंदी शहर वासियों के द्वारा आगमन पर जिस तरह के का मान और सम्मान किया, साथ ही रीट परीक्षा के दौरान बाहर से आने वाले अभ्यर्थियों के लिए जो व्यवस्थाएं की एवं जिला प्रशासन को सहयोग दिया उसके लिए शहर वासियों का साधुवाद किया।

इस अवसर पर नगर परिषद आयुक्त महावीर सिंह सिसोदिया ने लोगों से कहा कि बूंदी जिले की आबादी के हिसाब से जितने आवेदन आने चाहिए थे, उतने आवेदन नहीं आए। उन्होंने लोगों से कहा कि आपके पास जो भी कागजात है उन्हें लेकर नगर परिषद पधारे, यहां कर्मचारियों को पत्रावली दिखाए धारा 69A के तहत अधिक से अधिक पट्टे बनाने का प्रयास किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह शिविर 31 मार्च 2022 तक जारी रहेगा।

पौधारोपण भी किया

बाटें 51 पट्टे
शिविर में 69ए के तहत 25, स्टेट ग्रांट एक्ट के तहत 7 एवं कृषि भूमि के अंतर्गत 19 पट्टे वितरित किए। इस मौके पर अम्बेडकर भवन प्रांगण में जिला कलक्टर एंव पुर्व मंत्री शर्मा ने पौधारोपण भी किया। कार्यक्रम में सभापति मधु नुवाल, उपसभापति लटूर भाई, जिला कलेक्टर एयू खान, उपखंड अधिकारी ललित गोयल, पुर्व प्रधान भगवान नुवाल, वरिष्ट पार्षद टीकम जैन मंचासिन थे। कार्यक्रम में अन्य जनप्रतिनिधिगण एवं आमजन मौजूद रहे।