महिला को बंधक बनाकर 3 दिन तक अलग-अलग जगह पर किया गैंगरेप

शहर के पास से निकल रहे एनएच-52 पर स्थित कई होटलों और ढाबों पर सरेआम जिस्मफरोशी का गंदा कारोबार फलफूल रहा है।
 
womens thana bundi

बूंदी। शहर में तीन महिलाओं ने चित्तौड़गढ़ की एक महिला को बुलाकर आधा दर्जन लोगों को सौंपने का मामला सामने आया है। उन आधा दर्जन आरोपियों ने महिला को तीन दिन तक बंधक बनाकर अलग-अलग जगह ले जाकर गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया। इसके बाद आरोपी पीड़िता को बस स्टैंड पर छोड़कर फरार हो गये। पीड़िता ने आरोपियों के खिलाफ महिला थाने में मामला दर्ज कराया है। पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल मुआयना करवाया लिया है। आरोपी महिलाओं में एक होमगार्ड की पुर्व कर्मचारी बताई जा रही है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

महिला अपराध सैल के डीएसपी नारायणलाल विश्नोई ने बताया कि बूंदी निवासी तीन महिलाओं ने चित्तौड़गढ़ जिले के पारसोली से एक महिला को बुलवाकर उसे आधा दर्जन लोगों के हवाले कर दिया। उन्होंने महिला को तीन दिनों तक बंधक बनाये रखा। इस दौरान वे महिला को अलग अलग स्थानों पर ले गये और उससे बूंदी, देवली और पुष्कर ले जाकर सामूहिक दुष्कर्म किया। बाद में आरोपी बुधवार रात को उसे रोडवेज बस स्टैंड पर छोड़कर भाग गये। इसकी सूचना पर कोतवाली पुलिस ने मौके पर पहुंचकर पीड़िता को महिला थाने पहुंचाया।

मामले की जांच शुरू 
महिला थाना पुलिस ने पीड़िता की रिपोर्ट पर आधा दर्जन आरोपियों और उनका सहयोग करने वाली तीन दलाल महिलाओं के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल करवा लिया है। डीएसपी विश्नोई ने कहा कि मामले की जांच शुरू कर दी गई है। पीड़ित महिला के बयानों के बाद आगे कार्रवाई की जायेगी।

जिले में फलफूल रहा है देह व्यापार का कारोबार
उल्लेखनीय है कि छोटी काशी के नाम से प्रसिद्ध बूंदी जिले की पुलिस के उदासीन रवैये के कारण बूंदी शहर समेत शहर के पास से निकल रहे एनएच-52 पर स्थित कई होटलों और ढाबों पर सरेआम जिस्मफरोशी का गंदा कारोबार चल रहा है। इस गंदे धंधे में कई महिलायें भी शामिल हैं। यही कारण है कि पिछले कुछ समय में बूंदी जिले में देह व्यापार काफी फलफूल रहा है।