अन्तर्राष्ट्रीय नृत्यागंना गुलाबो की रंगारंग प्रस्तुति के साथ बूंदी उत्सव-2021 का समापन

गुलाबो के कालबेलिया नृत्य से रोमांचित हुए दर्शक 
 
gulabo program

बूंदी। बूंदी उत्सव के अंतिम दिन बुधवार रात ऐतिहासिक 84 खंभों की छतरी पर अन्तर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त कालबेलिया नृत्यांगना गुलाबो की प्रस्तुति ने दर्शकों को रोमांचित किया। इसी के साथ तीन दिवसीय बूंदी उत्सव, 2021 का रंगारंग समापन हो गया।

84 pillar

कार्यक्रम में नगर परषिद सभापति मधु नुवाल, जिला जज सुधीर पारीक, सीजेएम मुनेश यादव, तकनीकी विश्वविद्यालय कोटा की रजिस्ट्रार आराधना सक्सेना,  राजस्व अपील अधिकारी भगवंती जेठवानी, जिला कलेक्टर रेणु जयपाल, पुलिस अधीक्षक जय यादव एवं उप वन संरक्षक सोनल जोरिहार ने शिरकत की।
गुलाबो ने अपने दल के साथ लगभग 45 मिनट लगातार नृत्य में अनूठे करतब दिखाते हुए दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया। उनके साथ उनकी बेटी और पोती ने भी नृत्य कर समा बांधा।

गुलाबो के कालबेलिया नृत्य से रोमांचित हुए दर्शक

गुलाबो ने मंच पर आकर अभिवादन करते हुए सबसे पहले अपने प्रिय गीत ‘काल्यो कूद पड्यो मेळा म‘ के साथ अपनी प्रस्तुति प्रारंभ की। इसके बाद बीन और मृदंग की धन पर वे अपने साथियों के साथ देर तक मंच पर थिरकती रही। कभी नागिन की तरह बलखाती तो कभी चकरी जैसे घूमते हुए अपनी नृत्य प्रतिभा का प्रदर्शन किया। उनकी साथी कलाकारों ने भी जमीन पर रखी अंगूठी और सिक्के मुंह से उठाते हुए,कभी बैठकर घूमते हुए और लेट कर अपनी नृत्य प्रतिभा दिखाई।
इस अवसर पर अतिथियों ने नृत्यांगना गुलाबो एवं अन्य कलाकारों का सम्मान किया और बूंदी जिले के सपेरा समाज की ओर से भी गुलाबो का तलवार भेंट कर अभिनंदन किया गया।

आरंभ में शिक्षा विभाग द्वारा एक साथ सौ विद्यालयी छात्राओं

आरंभ में शिक्षा विभाग द्वारा एक साथ सौ विद्यालयी छात्राओं द्वारा 84 खंभों की छतरी पर घूमर की प्रस्तुति से नयनाभिराम दृश्य बन पड़ा।
कच्ची घोड़ी चकरी नृत्य भवाई आदि की प्रस्तुति भी आकर्षक रही।