बूंदी-टोंकः स्कुल संचालक पिता-पुत्र के बाद एक और छात्र की मौत, मृतको कि संख्या हुई तीन

 
 इलाज के दौरान विनोद पुत्र मनीष बैरवा की मौत हो गई

बूंदी/टोंक। नगरफोर्ट थाना क्षेत्र से निकल रहे उनियारा-गुलाबपुरा नेशनल हाईवे 148 डी पर सड़क हादसे में घायल हुए बच्चे की शनिवार को मौत हो गई। बोलेरो एवं स्कूल वैन भिड़ंत की भिड़ंत में घायल हुए बच्चे को अस्पताल में भर्ती कराया था, जहां इलाज के दौरान शनिवार को उसकी मौत हो गई। इस हादसे में स्कुल संचालक और उसके पुत्र की शुक्रवार को मौत हो गई थी। ऐसे में अब मृतकों की संख्या दो से बढ़कर तीन हो गई है।

जानकारी के अनुसार बूंदी जिले के नैनवां क्षेत्र के मानपुरा निवासी महेंद्र धाकड़ शुक्रवार सुबह उसके दो बेटों समेत चार बच्चों को स्कूल वेन में बैठाकर नैनवां के स्कूल जा रहा था। इस दौरान नैनवां की तरफ से आ रही एक बोलेरो से स्कूल वैन की भिड़ंत हो गई। भिड़ंत इतनी जोरदार थी कि मौके पर ही मानपुरा निवासी महेंद्र पुत्र मदन लाल धाकड़ एवं उसके 7 साल के बेटे पीयूष धाकड़ की मौके पर दर्दनाक मौत हो गई थी। जबकि महेंद्र धाकड़ का दूसरे बेटे समेत 4 बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए थे।

चारों घायल बच्चों को पुलिस ने नैनवां अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया था। बाद में उन्हें गंभीर हालत को देखते हुए बूंदी रेफर किया गया था। फिर वहां से भी कोटा रेफर कर दिया था। जहां इलाज के दौरान विनोद (8) पुत्र मनीष बैरवा की मौत हो गई। वहीं मृतक महेंद्र धाकड़ के दूसरा बेटे अंशुल धाकड़ (10), अभिषेक (12) पुत्र गौतम नागर एवं शिवम (4) पुत्र गौतम नागर का इलाज चल रहा है। विनोद बैरवा की इलाज के दौरान मौत होने के बाद में नैनवां अस्पताल में मृतक का पंचनामा तैयार करने के बाद पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया।