बूंदी : किशोरी से गैंगरेप के बाद हत्या के दो आरोपी 12 घंटे के भीतर पकड़े, एक नाबालिग भी शामिल

 - पुलिस की त्वरित कार्यवाही पर आमजन और जनप्रतिनिधियों ने कि सराहना
 
किशोरी से गैंगरेप के बाद हत्या के दो आरोपी 12 घंटे के भीतर पकड़े
खुद एसपी जय यादव 10 थानों कि पुलिस के साथ जंगल में हत्या का का सुराग तलाशते रहे और आरोपियोें को चंद घंटो में सलाखों के पिछे धकेल दिया। उक्त मामले में पुर्व सीएम वसूंधरा राजे ने पीड़ित के परिजनो से मोबाईल पर बात कर सांत्वना दी और घटना की जानकारी ली। इधर, मुख्यमंत्री कार्यालय ने भी ली घटना की जानकारी, पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को दिए आवश्यक दिशा निर्देश।  गैंगरेप और हत्या की घटना को लेकर भाजपा महिला मोर्चा ने गहरा रोष जताया
बूंदी। जिले के बसोली थाना इलाके के काला कुंआ गांव में गुरूवार को गैंगरेप के बाद किशोरी की हत्या कर दी थी। हत्या के बाद किशोरी का नग्न अवस्था में शव मिला था। जिसपर जिला पुलिस अधीक्षक जय यादव और उनकी टीम ने कड़ी मेहनत करके मात्र 12 घन्टे में ही मासूम से दुष्कर्म व जघन्य हत्या की घटना का खुलासा किया है। पुलिस ने 2 दरिंदों को गिरफ्तार किया है। एक नाबालिक का वारदात में शामिल होना सामने आया है। मामले में अनुसंधान जारी है।   

 जंगल में हत्या का का सुराग तलाशते रहे

           

घटनाक्रम के अनुसार गुरूवार रात को काला कुंआ गांव के जंगल कलोजर 15 वर्षीय का नग्न अवस्था में शव मिला था। जो गुरूवार शाम 5 बजे के लगभग अपनी टापरी से पानी की बोतल लेकर फ्रेश होने की कह कर गई थी। जो बच्ची वापस टापरी व खेत पर नही आई तो  परिजनो नेे आस पास पुछताछ की तो किसी ने भी देखने की हां नहीं भरी है। फिर किशोरी को गोद लेने वाले माता पिता बच्ची को ढुढने के लिये अपने खेती की जमीन के निचली साईड में कलोजर में ढुढने पर बच्ची नग्न अवस्था में मृत पडी हुयी मिली, जबकि वह कपडे पहने हुयी थी उसके शरीर पर चोटो के निशान भी आये हुये है। 
पुलिस टीम द्वारा हत्या के खुलासे के प्रयास टीम प्रभारियों द्वारा पूरे जंगल में डेगन लाईट व अन्य संसाधनों के साथ सघन सर्च ऑपरेशन चलाया गया।  मृतक के आस-पडौस में रहने वाले नई उम्र के युवको सहित कई बिन्दुओं पर गहन अनुसंधान किया गया। पीडित के आस-पडौस रहने वाले लोगों से गोपनीय सूचना एकत्र की गई। 

सूर्य की पहली किरण के साथ ही जगी उम्मीद की किरण -
रात्री में हुये जंगल में सर्च ऑपेरशन से पुलिस को कुछ सुराग हाथ लगे परन्तु निश्चियात्मक सबूत जुटाने के लिए पुलिस अधीक्षक ने सूर्य की पहली किरण के साथ ही अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक किशोरीलाल के निर्देशन में वृताधिकारी हिन्डोली श्याम सुन्दर विश्नोई के नेतृत्व में 10 थानाधिकारियों व आरएसी की दो कम्पनियों के जाप्ते को निर्देशित कर जंगल में पुनः संघन सर्च ऑपरेशनकरवाया सभी टीमों के संयुक्त प्रयास से जंगल में 4-5 घन्टे की मशक्कत के बाद टीम को एक अण्डरवियर मिला जो पुरुष का था, ये अण्डरवियर वारदात में शामिल व्यक्ति की होने की सम्भावना मानते हुये आस-पास की टॉपरियों में अण्डरवियर किस की हो सकती है कि पडताल करना चालू किया। मौके पर मौजूद डॉग स्कॉड की मदद से उक्त अण्डरवियर पहनने वाले व्यक्ति के जाने की दिशा आगे बढने पर प्रकरण में संदिग्ध व्यक्ति सुल्तान भील टॉपरी की ओर इंगित हुई एंव डॉग द्वारा भी उसी की भौंक कर सुल्तान की ओर ईशारा किया। जिस के पश्चात सुल्तान भील से पूछताछ की गई, सुल्तान भील के शरीर पर ताजा खरोंच के निशान होने पर एंव अण्डरवियर स्वंय की होना स्वीकार किया गया। साथ ही अपराध में स्ंवय के साथ छोटूलाल भील निवासी काला कुंवा व एक नाबालिक बालक के साथ मिल कर शराब के नशे में तीनों द्वारा बारी बारी से मृतका के साथ बलात्कार करना बताया। बलात्कार के पश्चात बालिका द्वारा स्वंय के परिजनों को घटना के सम्बन्ध में बताये जाने का कहने पर तीनों आरोपियों ने मिल कर पहले पत्थर की सिर पर चोट मारी एंव फिर मृतका की चुन्नी से गला घोंट कर हत्या कर दी एवं लाश वही पटक कर चले गये। अनुसंधान से प्रकरण में मामला धारा 376 डीए गैंग रेप व हत्या का पाया जाने पर अग्रिम अनुसंधान वृत्ताधिकारी हिन्डोली द्वारा प्रारम्भ किया गया बाद अनुसंधान आरोपी सुल्तान पुत्र रामलाल जाति भील उम्र 27 साल हाल निवासी काला कुंआ थाना बसोली एंव छोटूलाल पुत्र देवीलाल जाति भील उम्र 62 साल निवासी काला कुंआ थाना बसोली जिला बून्दी को गिरफ्तार किया गया। नाबालिक की भूमिका के सम्बन्ध में अनुसंधान जारी हैं।  

मामले में पुर्व सीएम वसूंधरा राजे ने पीड़ित के परिजनो से मोबाईल पर बात कर सांत्वना दी

पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने ली घटना की पूरी जानकारी 
उक्त मामले में भाजपा नेता रुपेश शर्मा ने मोर्चरी के बाहर धरना लगाकर प्रदर्शन शुरू कर दिया। सूचना पर उपखंड अधिकारी बूंदी, अतिरिक्त जिला कलेक्टर अमानुल्लाह खान मौके पर पहुंचे और समझाइश कर मामला शांत करवाया। जिला प्रशासन की ओर से पीड़ित प्रतिकार समिति की ओर से ढाई लाख रुपए मुआवजा दिलाने एवं राज्य सरकार को 10 लाख का मुआवजा देने का प्रस्ताव बनाकर भेजना व मनरेगा योजना में मृतक के परिजनों को सम्मिलित करने का भरोसा दिया गया। उक्त मामले में भाजपा नेता रूपेश शर्मा द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को भी अवगत कराया। जिस पर राजे ने मृतक के परिजनों से मोबाइल का फोन स्पीकर ऑन करके वार्ता कर सांत्वना दी और घटनाक्रम की पूरी जानकारी।

भाजपा महिला मोर्चा ने जताया गहरा रोष

गैंगरेप और हत्या की घटना को लेकर भाजपा महिला मोर्चा ने जताया गहरा रोष
जिला प्रभारी मंत्री जाहिदा खान के बूंदी प्रवास के दौरान भाजपा महिला मोर्चा कार्यकर्ताओं ने जमकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने बसोली थाना क्षेत्र में किशोरी के साथ हुई गैंगरेप और हत्या की घटना को लेकर गहरा रोष जताया। उन्होंने प्रभारी मंत्री से मिलने के लिए करीब 2 घंटे तक प्रदर्शन किया। लेकिन भाजपा महिला मोर्चा कार्यकर्ताओं को सर्किट हाउस के अंदर घुसने नहीं दिया। करीब 2 घंटे चले प्रदर्शन के बाद प्रदर्शनकारी बिना ज्ञापन दिए वापस लौट गए। दौरान महिला मोर्चा जिला अध्यक्ष इंजीनियर नूपुर मालव सहित भाजपा के दर्जनों पदाधिकारी मौजूद थे।

मुख्यमंत्री कार्यालय ने ली घटना की जानकारी, पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को दिए आवश्यक दिशा निर्देश
बसोली थाना अंतर्गत ग्राम पंचायत में आदिवासी भील समाज की नाबालिग बालिका के रेप के बाद जघन्य हत्याकांड के बारे में मुख्यमंत्री कार्यालय ने भी जानकारी ली और पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये। जिला कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष चर्मेश शर्मा ने शुक्रवार प्रातः मुख्यमंत्री कार्यालय को सारे घटनाक्रम से अवगत करवाते हुये दोषियों के विरुद्ध प्रभावी कार्रवाई करने और पीड़ित परिवार को आर्थिक सहायता देने की मांग की। इसके बाद मुख्यमंत्री कार्यालय ने शर्मा से दूरभाष पर सारे घटनाक्रम की जानकारी ली और पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों को त्वरित कार्यवाही के निर्देश दिये।