महिलाओं के बैग लूट की दो घटना का आरोपी गिरफतार, शराब की लत ने बनाया कर्जदार और अपराधी

 
महिलाओं के बैग लूट की दो घटना का आरोपी गिरफतार

बूंदी। सदर थाना इलाके में पिछले दिनों हाईवे पर मोटरसाइकिल से महिला का बैग लूटने के दर्ज दो मामलों में कार्यवाही करते हुए पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर मोटरसाइकिल जप्त कि है। आरोपी शराब का आदी होने के चलते कर्ज में डूब कर लूट की वारदात अंजाम देकर अपराधी बन गया।

प्रथम घटना 31 अक्टूबर सायं 7ः30 बजे के करीब हुई जिसमें पीड़िता उषा दाधीच पत्नी श्रीकांत दाधीच 31 वर्ष निवासी 3एफ विकास नगर ने बताया कि अंथडा से बूंदी आ रही थी कि रामगंज बालाजी पार होने के बाद रेलवे की पुलिया चढ़ते समय मोटरसाइकिल पर चल रहे थे कि पीछे एक बाइक वाला आया और साइड में लेकर महिला के कंधे से बैग छीन कर अपनी बाइक को तेज गति से भगा कर फरार हो गया। पर्स में 3 हजार रूपये, मोबाइल, एटीएम कार्ड, पैन कार्ड, आवश्यक दस्तावेजों पर प्रकरण दर्ज किया गया।

दूसरी घटना के अनुसार 1 नवंबर को शुभम श्रृंगी पुत्र अनील श्रृंगी निवासी नाहर का चोहटा अपनी बहन परिधी श्रृंगी के साथ रिपोर्ट पेश की। दोनों भाई बहन बाइक पर कोटा बुआ के पास जा रहे थे। रामगंज बालाजी के पास पेट्रोल पंप के यहां मोटरसाइकिल पंचर हो जाने से मोटरसाइकिल रोकी और उसकी बहन साइट पर खड़ी थी। उसी समय पीछे से एक बाइक सवार व्यक्ति साफी से मुंह बांधे आया और बैग लेकर भाग गया। उसकी बहिन के बैग में 500-700 रुपए थे। विद्यालय आईडी कार्ड, आधार कार्ड, सैमसंग का मोबाइल रखा हुआ था। जिस पर मामला दर्ज किया गया।

जिला पुलिस अधीक्षक जय यादव ने बताया कि चोरी और बैंग लूट ले जाने की घटना के आरोपियों को पकड़ने के लिए मुखबिर तंत्र को सक्रिय करते हुए पुलिस टीम ने तकनीकी अनुसंधान किया। जिसमें सामने आया कि रामगंज बालाजी के आसपास रहने वाला ही कोई व्यक्ति घटनाओं को अंजाम दे रहा है। इस पर पुलिस टीम ने संदेह के आधार पर हेमराज उर्फ फोरु भील पुत्र छोट्या निवासी भीलो का बरडा दोलाड़ा को गिरफ्तार कर पूछताछ की। जिसमें आरोपी ने बताया कि उसके ऊपर कर्ज होने व शराब की लत ज्यादा होने से रुपए की आवश्यकता थी इस कारण मजदूरी ने मन नहीं लगा तो मेरी मोटरसाइकिल से हाईवे पर चलती मोटर साइकिल पर पीछे बैठी महिला का बैग छीन लिया, इससे मेरा शक खुल गया और दूसरे दिन फिर हाईवे पर मोटरसाइकिल के पास खड़ी महिला का बैग छीनकर ले गया। रुपए और मोबाइल बैचकर शराब पी गया। बैग जंगल में फेंक ना स्वीकार किया है। आरोपी ने घटना को अकेले ही करना स्वीकार करने पर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।