Bundi :12 साल की बालिका से दुराचार करने के दो आरोपी गिरफ्तार, शेष कि तलाश जारी

बाल कल्याण समिति की रिपोर्ट पर पोस्को एक्ट में हुआ था माला दर्ज
 
Two accused of raping a 12-year-old girl arrested, search continues for remaining

बूंदी। 12 साल की नाबालिग बालिका का शारीरिक शोषण करने के मामले में पुलिस ने दो आरोपियो को गिरफ्तार किया (Police arrested two accused in the case of physical abuse of a 12-year-old minor girl) हैं, जबकि शेष अन्य आरोपियों कि तलाश जारी है। लाखेरी थाना पुलिस बाल कल्याण समिति की रिपोर्ट पर मामला दर्ज (Case registered on the report of child welfare committee) कर कार्यवाही में जुटी है। 

एसपी जय यादव ने दिखायी तत्परता
मामले को जिला पुलिस अधीक्षक जय यादव ने गंभीरता से लेते हुए लाखेरी थाना अधिकारी को त्वरित कार्यवाही करने के निर्देश दिए, जिसपर लाखेरी थाना पुलिस ने कार्यवाही करते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया, शेष अन्य आरोपियों की धरपकड़ के प्रयास जारी है। पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए तत्काल बालिका का मेडिकल मुआयना करवाकर 164 के बयान दर्ज करवाए। बालिका को फिलहाल तेजस्विनी बालिका खुला आश्रय गृह में रखा गया है।

इन्हें किया गिरफ्तार
लाखेरी थाना अधिकारी महेश कुमार ने बताया कि बाल कल्याण समिति कि रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर दो आरोपियो को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने हेमराज सोनी पुत्र मदनलाल 47 साल, रघुनन्दन उर्फ रघु पण्डित पुत्र भगवानदत शर्मा 46 साल निवासी चारभुजा मन्दिर के पास ब्रह्मपुरी लाखेरी जिला बून्दी को गिरफ्तार किया है, शेष अन्य आरोपियो कि तलाश जारी है।

जानकारी के मुताबिक, 12 साल कि मासूम बालिका के साथ दुराचार होने की सूचना कस्बे के लोगों ने 6 नवंबर को 1098 नंबर पर कॉल कर चाइल्ड लाइन को दी थी, लेकिन चाइल्डलाइन टीम 9 नवंबर को लाखेरी पहुंची तथा 10 नवंबर को बालिका को दस्तियाब कर बाल कल्याण समिति के समक्ष पेश किया गया। जहां बाल कल्याण समिति ने काउंसलिंग की, जिसमें 12 वर्षीय बालिका ने उसके साथ अधेड़ उम्र के 5 लोगों द्वारा दुष्कर्म करने की बात बताई तो बाल कल्याण समिति के सदस्य भी दंग रह गये। जिसके बाद बाल कल्याण समिति ने बालिका को तेजस्विनी बालिका खुला आश्रय गृह में भिजवाया दिया। बाल कल्याण समिति सदस्यो ने पीडित बालिका के परिजनो से भी बातचीत कि जिसमें वह कार्यवाही तो चाह रहे थे, लेकिन आरोपियो व अन्य लोगो के डर के कारण रिपोर्ट दर्ज करवाने से पिछे हट रहे थे, ऐसे में बाल कल्याण समिति अध्यक्ष सीमा पौद्दार ने आगे आकर बालिका की ओर से पोस्को एक्ट में मामला दर्ज करवाया। जिस पर लाखेरी थाना पुलिस ने 17 नवंबर को 5 नामजद आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर अनुसंधान प्रारंभ कर दिया। इसके बाद रविवार को पुलिस ने हेमराज सोनी पुत्र मदनलाल 47 साल, रघुनन्दन उर्फ रघु पण्डित पुत्र भगवानदत शर्मा 46 साल निवासी चारभुजा मन्दिर के पास ब्रह्मपुरी लाखेरी जिला बून्दी को गिरफ्तार किया है, शेष अन्य आरोपियो कि तलाश जारी है।

चाइल्डलाइन की टीम पर उठे सवाल!
बूंदी चाइल्डलाइन की टीम पर सवाल उठने लगे है कि जब मामले की सूचना 1098 नंबर पर 6 नवंबर को दी गई थी, लेकिन चाइल्डलाइन की टीम 9 नवंबर को लाखेरी पहुंची। आखिर 3 दिन तक चाइल्डलाइन की टीम क्या कर रही थी। चाइल्डलाइन टीम चाहती तो लाखेरी में ही परिजनों को मोटिवेट कर रिपोर्ट दर्ज करवा सकती थी, लेकिन ऐसा नहीं कर 10 नवंबर को बाल कल्याण समिति के समक्ष पेश किया। ऐसे में प्रक्रिया में विलंब हुआ और परिजन जब डर के मारे रिपोर्ट कराने से पीछे हटे तो उन्होंने तो बाल कल्याण समिति अध्यक्ष ने आगे आकर मामले में रिपोर्ट दर्ज करवा दी।