Kota ACB proceedings : जलदाय विभाग बूंदी के दो कनिष्ठ अभियंता 11500 की रिश्वत की राशि लेते ट्रेप

 
Proceedings of Kota ACB: Two junior engineers of water supply department, Bundi, trap taking bribe amount of 11500

बूंदी। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB) कोटा की टीम ने कार्यवाही करते हुए जलदाय विभाग के दो कनिष्ठ अभियंताओं को 11500 की रिश्वत की राशि लेते ट्रेप (Trap taking bribe amount of 11500 to two junior engineers of water supply department) किया है। रिश्वत की यह राशि ठेकेदार के 4.80000 के कार्यों की एमबी भरने, बिल बनाने एवं पास करने की एवज में जेईएन पवन राठौर 30 हजार रूपये और जेईएन राजेन्द्र सैनी (JEN Pawan Rathore 30 thousand and JEN Rajendra Saini) बिल के हिसाब से 2 प्रतिशत की रिश्वत की मांग कर रहे थे। 

ACB की यह कार्यवाही अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ठाकुर चंद्रशील कुमार के निर्देशन एवं ACB के पुलिस निरीक्षक अजीत बागडोलिया के नेतृत्व में अंजाम दी गई है।
ACB के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ठाकुर चंद्रशील कुमार ने बताया कि 6 मई को मोहम्मद शाहिद हुसैन निवासी धोबी वाली गली गुरु नानक कॉलोनी बूंदी ने एक शिकायत पेश कर बताया कि जलदाय विभाग में उसकी फर्म मोहम्मद शाहिद हुसैन कॉन्टैक्टर के नाम से कार्य लेकर ठेकेदारी का कार्य करता है। उसकी फर्म के जरिए बूंदी शहर में परकोटे के अंदर एचडीपी 110एमएम/90 एमएम पाइप लाइन बिछाने एवं जोड़ने तक रोड रिपेयरिंग कार्य मय सामग्री का 4 लाख 80 हजार रूपये का 18.18 बिलों में लिया था।

जिसको मेरे द्वारा पूर्ण करने पर बिल बनाने के लिए उसने जलदाय विभाग के जेईएन पवन राठौर से बात की तो उन्होंने एमबी भरने तथा बिल बनाने व पास करने की एवज में 30000 की मांग की तथा जेईएन राजेंद्र सैनी (अतिरिक्त चार्ज सहायक अभियंता) ने बिल पास करवाने के नाम पर बिल की राशि 2 प्रतिशत के हिसाब से रुपए देने के लिए कहा। इसके बाद जेईएन पवन कुमार ने 2.89,846 का चेक ठेकेदार को दिया तथा कहा कि अब मेरा कमीशन का पेमेंट कर दो, जिस पर ठेकेदार ने कहा कि बाकी का बिल बनाओ में एक-दो दिन में पेमेंट कर दूंगा।

परिवादी ने एसीबी को बताया कि कनिष्ठ अभियंता पवन कुमार और राजेंद्र सैनी को में काम के बदले रिश्वत नहीं देना चाहता हूं तथा उनको रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़वाना चाहता हूं। इस पर 6 मई को रिश्वत की मांग का गोपनीय सत्यापन करवाया तो पवन कुमार कनिष्ठ अभियंता द्वारा 4 प्रतिशत के हिसाब से 11500 तथा राजेंद्र सैनी कनिष्ठ अभियंता (अतिरिक्त प्रभार सहायक अभियंता) द्वारा 2 प्रतिशत के हिसाब से 5000 की रिश्वत की मांग की पुष्टि हुई। 

इस पर 10 मई मंगलवार को ट्रेप कार्यवाही का आयोजन किया गया। आरोपी पवन राठौर कनिष्ठ अभियंता को मेवाड़ केसरी रेस्टोरेंट पुराना बाईपास रोड पर परिवादी से रिश्वत की राशि 11500 लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा है तथा रिश्वत की राशि 11500 आरोपी पवन राठौर की पहनी हुई पेंट की बाई जेब से बरामद कि है। अन्य आरोपी राजेंद्र कुमार सैनी कनिष्ठ अभियंता को डिटेन किया गया है। अग्रिम कार्यवाही की जा रही है।