समाज, देश की प्रगति, समृद्धि, आर्थिक विकास को प्रभावित करने में जनसंख्या वृद्धि महत्वपूर्ण कारक

 
Population growth is an important factor in influencing the progress, prosperity, economic development of society, country.

बूंदी। विश्व जनसंख्या दिवस के उपलक्ष में जनसंख्या स्थायित्व एव परिवार कल्याण विभाग का जिला स्तरीय समारोह बुधवार को हरियाली रिसोर्ट में आयोजित हुआ। इसमें अतिरिक्त जिला कलक्टर करतार सिंह एवं अतिरिक्त जिला कलक्टर (सीलिंग) एयू खान एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी मुरलीधर प्रतिहार ने शिरकत की। समारोह को सम्बोधित हुए अतिरिक्त जिला कलक्टर करतार सिंह ने जनसंख्या नियंत्रण वर्तमान समय की जरूरत है। इसके अभाव कितने ही संसाधन हो, कम ही पडेंगे। किसी समाज, देश की  प्रगति, समृद्धि, आर्थिक विकास को प्रभावित करने में जनसंख्या वृद्धि महत्वपूर्ण कारक है। उन्होंने आमजन से अपील की कि पर्यावरण संतुलन के लिए अधिक से अधिक वृक्षारोपण करें। साथ ही जनसंख्या नियंत्रण में अपना सहयोग दें और इसके लिए लोगों को जागरूक करें। परिवार कल्याण के क्षेत्र में मिली उपलब्धि के लिए उन्होंने सीएमएचओ महेंद्र त्रिपाठी के साथ ंही पूरी टीम को बधाई भी दी

इस अवसर पर मुख्य कार्यकारी अधिकारी मुरलीधर प्रतिहार ने कहा कि विश्व जनसंख्या दिवस अवसर पर परिवार कल्याण के क्षेत्र में बूंदी को राज्य स्तरीय पुरस्कार मिलना गौरव की बात है। टीम भावना के रूप में किए कार्य के परिणामस्वरूप जिले को यह उपलब्धि हासिल हुई है। उन्होंने कहा कि इसी टीम भावना से बूंदी जिला चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाओं तथा अन्य गतिविधियों में निरंतर प्रगति कर रहा है। उन्होंने कहा जनसंख्या शब्द बहुत विस्तृत संकल्पना है  जिसमें जनसंख्या के मुख्य पहलू में शिक्षा ,स्वास्थ्य ,उच्च जीवन स्तर से शामिल हैं। 

समारोह में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.महेन्द्र त्रिपाठी ने उद्घाटन भाषण मे विश्व जनसंख्या दिवस पर जनसंख्या स्थायित्व एवं परिवार कल्याण सेवाओं के बारे में विस्तृत जानकारी दी। समारोह में विष्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर जनसंख्या स्थायित्व के क्षेत्र में उत्कृष्ठ कार्य करने वाली संस्थाओं जिसमें पंचायत समिति तालेड़ा, ग्राम पंचायतें डाबी, बड़ानयागांव, खटकड़, जैतपुर, झालीजी का बराना, को प्रषस्ति पत्र तथा विभागीय कार्यकर्ताओं यथा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र डाबी के चिकित्सा अधिकारी, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र गोठडा एल.एच.वी., एएनएम, आषा सहयोगिनी को प्रषस्ति पत्र व मोमेण्टो देकर सम्मानित किया। साथ ही जिलें में सबसे अधिक नसबन्दी केस करने पर सामान्य चिकित्सालय बून्दी के सर्जन डॉ.प्रभाकर विजय को प्रशस्ति पत्र व मोमेण्टो से सम्मानित किया। समारोह में जिले में कार्यरत सर्जन, एएनएम, आशा कार्यकर्ता, परिवार कल्याण कार्यालय के कार्मिकों को भी प्रषस्ति पत्र देकर सम्मानित भी किया गया। 

11 जुलाई से शुरू होगा जनसंख्या स्थिरता पखवाडा 
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि जिले में 11 से 24 जुलाई तक जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा मनाया जाएगा। इसके अन्तर्गत जिले में नसबन्दी नियत दिवस सेवा का आयोजन किया जाएगा। जिसमें सर्जन द्वारा पुरूष एवं महिला नसबन्दी ऑपरेशन किए जाएंगे।

समारोह में पंचायत समिति तालेडा के प्रधान राजेश रायपुरिया, ग्राम पंचायत डाबी के सरपंच देवबाई भील, बडानया गांव की सरपंच मनजीत कोर, प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डॉ.तनेजा, जिला कार्यक्रम प्रबन्धक डॉ.राहुल माथुर, शहरी कार्यक्रम प्रबन्धक अरविन्द तिवारी, जिला लेखा प्रबन्धक योगेश सुवालका, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के चिकित्सा अधिकारी सर्जन डॉ.राजेश मीणा, केशोरायपाटन के डॉ.रियाज, माया हॉस्पिटल के सर्जन डीके गुप्ता, सामान्य चिकित्सालय बून्दी की गायनोक्लोजिस्ट चन्द्रेश मीणा, शिवानी मीणा एवं अन्य गणमान्य नागरिकों एवं जिला स्तरीय अधिकारियों ने भाग लिया।