राजगढ़ में शिव मंदिर को तुड़वाकर धार्मिक भावनाये आहत करने वालों के विरुद्ध बूंदी में मुकदमा दर्ज

- तोड़ने का प्रस्ताव लेने वाले राजगढ़ पालिका अध्यक्ष व 32 भाजपा पार्षदों के विरुद्ध बूंदी देवपुरा थाने में मुकदमा दर्ज
- भड़काउ फेक न्यूज़ चलाने पर एंकर अमन चोपड़ा के विरुद्ध भी एफआईआर
- शिवभक्त कांग्रेस नेता चर्मेश शर्मा की शिकायत पर दर्ज हुआ मामला
 
Case filed in Bundi against those who hurt religious sentiments by demolishing Shiv temple in Rajgarh

बूंदी ।राजगढ अलवर में शिव मंदिर को तोड़ने पर  देशभर के हिंदू धर्म के अनुयायियों शिव भक्तों की धार्मिक भावनाएं आहत हुयी है।  मंदिर तोड़ने का निर्णय लेने वाले राजगढ़ अलवर नगरपालिका अध्यक्ष भाजपा नेता सतीश दुहारिया और भाजपा बोर्ड के सदस्यों व गौरव पथ का अतिक्रमण हटाने के नाम पर मंदिर तोड़ने की मांग करने वाले भाजपा के राजगढ़ मंडल अध्यक्ष के विरुद्ध इस मामले में बूंदी देवपुरा थाने में शिवभक्तों की धार्मिक भावनाये आहत करने का मुकदमा दर्ज किया गया है।

अलवर में शिव मंदिर के तोड़े जाने का वीडियो सामने आने के बाद बूंदी के कांग्रेस नेता चर्मेश शर्मा ने इस मामले में शनिवार सांय देवपुरा थाने में शिकायत दी थी। जिस पर देर रात राजगढ़ नगरपालिका अध्यक्ष, भाजपा बोर्ड के पार्षदों,भाजपा मंडल अध्यक्ष व अन्य जिम्मेदार लोगों के विरुद्ध जानबूझकर 300 साल पुराना शिव मंदिर तुड़वाकर देश भर के शिव भक्तों की धार्मिक भावनाये आहत करने पर धारा 153A, 295,295A व 120 बी में एफआईआर दर्ज की गयी है। इस मामले में 17 अप्रैल की मंदिर तोड़े जाने की घटना को को 21 अप्रैल की घटना बताकर इसे मनगढ़ंत तरीके से जहांगीरपुरी से जोड़कर धार्मिक उन्माद फैलाने वाला वीडियो टि्वटर पर पोस्ट करने पर एंकर अमन चोपड़ा के विरुद्ध भी एफआईआर दर्ज की गयी है

 35 में से भाजपा के सभी 32 पार्षद मंदिर तुड़वाने में शामिल 

एफआईआर में अलवर नगर पालिका में भाजपा का बोर्ड है और वहां पर 35 में से 32 पार्षद भाजपा के हैं। नगर पालिका बोर्ड के 35 में से 32 भाजपा पार्षदों ने बोर्ड बैठक में शिव मंदिर तुड़वाने का प्रस्ताव लेकर और भगवान भोलेनाथ का मंदिर तुड़वाकर राजस्थान के साथ देश भर के शिव भक्तों की भावनाओं को आहत किया है। एफआईआर के साथ अलवर के भाजपा के मंडल अध्यक्ष की ओर से गौरव पथ का अतिक्रमण हटाने के लिये भाजपा के लेटर हेड पर की गयी मांग की प्रति भी सलग्न की गयी है।

भगवान शिव अखिल ब्रह्मांड के नायक
श्री गणेशाय नमः, और ॐ नमः शिवाय मंत्रो के साथ शिव मंदिर तोड़कर धार्मिक भावनाएं आहत करने के मामले की यह एफआईआर शुरू हो रही है।एफआईआर में राजगढ़ अलवर में शिव मंदिर तोड़ने पर धार्मिक भावनाओं को आहत करने की दर्ज  एफआईआर में फरियादी चर्मेश शर्मा की ओर से कहा गया है कि भगवान शिव अखिल ब्रह्मांड के नायक है और सृष्टि के संचालन में उनकी सबसे महत्वपूर्ण भूमिका है। एफआईआर भगवान शिव के मंदिर को तोड़कर राजस्थान के साथ देशभर के शिव भक्तों की धार्मिक भावनाओं को आहत करने के अपराध में शामिल सभी लोगों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की मांग की गयी है।

अमन चोपड़ा पर भी एफआईआर दर्ज
टीवी एंकर अमन चौपड़ा द्वारा 17 व 18 अप्रैल को अलवर राजगढ़ में मंदिर तोड़ने की घटना को मनगढ़ंत तरीके से 21 अप्रैल का बताकर इसे  जहांगीरपुरी की घटना से जोड़कर धार्मिक उन्माद फैलाने का वीडियो टि्वटर पर पोस्ट करने पर चौपड़ा के विरुद्ध भी एफआईआर दर्ज की गयी है। चोपड़ा ने बिना तारीख व तथ्यों की जानकारी के 17 अप्रैल को हुयी मंदिर तोड़ने की घटना को 20 अप्रैल को जहांगीरपुरी की घटना की प्रतिक्रिया बता दिया। और इसी आधार पर लंबा चौड़ा विवादित वीडियो ट्विटर पर पोस्ट कर दिया था। जिसे एफआईआर दर्ज होने के बाद चोपड़ा ने ट्विटर से हटा लिया  है।

पुलिस उपाधीक्षक हेमंत नोगिया ने बताया कि चर्मेश शर्मा की रिपोर्ट पर राजगढ़ में शिव मंदिर को तोड़ने के मामले को लेकर प्रकरण दर्ज कर लिया है।