बूंदी: ट्रक यूनियन ने एक बार फिर कब्जा जमाने का किया प्रयास, नगर परिषद कि और से कोतवाली थाने में दी रिपोर्ट

- खुदाई गई खाई और लगाए गए पिल्लरों को तोड़ कर जबरन खडे किये ट्रक
- ट्रक यूनियन के पदाधिकारियों ने कहा कि दोनो पक्षों में बनी सहमति पर नहीं हुई कोई कार्यवाही 
 
Bundi: Truck union once again tried to take possession, report given in Kotwali police station on behalf of city council

बूंदी। नगर परिषद (City Council) द्वारा करीब 1 महीने पहले बाईपास स्थित ट्रक यूनियन (truck union) से कब्जा छुड़ा कर अपने कब्जे में ली गई भूमि पर मंगलवार को ट्रक यूनियन के पदाधिकारियों ने एक बार फिर कब्जा जमाने का प्रयास करते हुए नगर परिषद द्वारा खुदाई गई खाई और लगाए गए पिल्लरों को तोड़ कर जबरन अपने वाहन खड़े कर दिए (Forcibly parked their vehicles by breaking the ditch excavated by the city council and the pillars installed)। जिससे मौके पर नया विवाद खड़ा हो गया। नगर परिषद आयुक्त ने ट्रक यूनियन पदाधिकारियों के खिलाफ कोतवाली पुलिस को रिपोर्ट दी है।

जानकारी के मुताबिक, ट्रक यूनियन को बाईपास पर लीज पर दी गई भूमि की लीज अवधि समाप्त होने के बाद ट्रक यूनियन द्वारा दायर किए गए वाद में फैसला नगर परिषद बूंदी के पक्ष में हुआ था, जिस पर लंबे समय बाद जिला प्रशासन के हस्तक्षेप से उक्त जमीन को ट्रक यूनियन से मुक्त कराकर नगर परिषद ने करीब एक महिने पहले कब्जा ले लिया था तथा नगर परिषद के वाहन मौके पर खड़े किए थे, तब से लगातार नगर परिषद वहां अपना कब्जा जमाये हुए है ओर अपने वाहनो का संचालन कर रहे है। उक्त भुमि पर नगर परिषद द्वारा खाई खोद कर पिल्लर लगाकर फेंसिंग कार्य किया जा रहा था जो लगभग पुरा होने को था। लेकिन मंगलवार को अचानक ट्रक यूनियन के पदाधिकारियों ने वहां पहुंचकर विरोध जताते हुए खाई को भर दिया एवं पिल्लर तोड़ दिए एवं जबरन ट्रक यूनियन से जुड़े वाहन खड़े कर दिए। सूचना पर नगर परिषद आयुक्त मौके पर पहुंचे और ट्रक यूनियन के पदाधिकारियों से वार्ता भी की। लेकिन बात नहीं बनी। जिसके बाद में नगर परिषद की ओर से कोतवाली थाने में ट्रक यूनियन पदाधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है।

 ट्रक यूनियन के सचिव अकील अहमद ने कहा कि नगर परिषद प्रशासन और युनियन बीच जो सहमति बनी थी उस पर नगर परिषद द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की गई है। जिला प्रशासन एवं नगर परिषद द्वारा हमें जो जमीन संभलाई गई है उसके लिखित दस्तावेज देने एवं बाउंड्री वाल कराने को लेकर सहमति बनी थी। लेकिन 1 महीने से ज्यादा निकलने के बावजूद भी ना तो जमीन के कागजात हमें सुपुर्द्र किए गए, ना ही बाउंड्री वाल को लेकर जो सहमति बनी थी उस पर भी कोई कार्यवाही नहीं की गई है। उक्त मामले को लेकर बुधवार को क्या करना है इसे लेकर निर्णय करेंगे।

नगर परिषद आयुक्त महावीर सिंह सिसोदिया ने कहा कि हमने 1 महीने पहले ही कब्जा ले लिया था, जहां हमारे वाहन खड़े कर दिए थे। भुमि पर खाई खोद कर पिल्लर लगाकर फेंसिग का कार्य किया जा रहा था। आज ट्रक यूनियन के पदाधिकारियों ने खाई को वापस भर दिया, पिल्लर तोड़ दिए और जबरन अपने ट्रक वहां खड़े कर दिए। जिससे नगर परिषद के वाहन भी वहां फंस गए। इस कारण बुधवार सुबह होने वाली सफाई व्यवस्था एवं कचरा उठाने में भी बड़ी परेशानी होगी। ट्रक यूनियन के पदाधिकारियों के खिलाफ कोतवाली थाने में रिपोर्ट दे दी है।