बूंदी : - कलक्टर साहब समझा लो, एसपी हमारे धंधे को चौपट करने जा रहा है,बहुत पीछा कर रखा,अच्छा नहीं होगा मेरी गैंग है यह

- कोतवाली थाना पुलिस ने धारा 386 मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी
 
Bundi: A threatening letter came to the collector's office, it was written - chased a lot, it will not be good, this is my gang

बूंदी। जिला कलेक्टर कार्यालय को किसी सिरफिरे बदमाश द्वारा धमकी भरा पत्र भेजा (Sent threatening letters) है। पत्र को जिला कलक्टर ने पुलिस को भेजकर कार्यवाही के निर्देश दिये (The District Collector sent the letter to the police and gave instructions for action.) है। इस पर जिला पुलिस अधीक्षक जय यादव के निर्देश पर कोतवाली थाना पुलिस ने धारा 386 में अज्ञात बदमाश के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर अनुसंधान शुरू कर दिया है।

पुलिस का मानना है कि यह हरकत किसी सिरफिरे बदमाश कि हो सकती है। बदमाश ने पत्र में अपना नाम परमजीत सलूजा निवासी तलवंडी कोटा बताते हुए कापरेन और लाखेरी थाना क्षेत्र में हुई चोरी- लूट की वारदात को उसकी गैंग के सदस्यों द्वारा अंजाम देना बताया है। पत्र में चोरी और लूट की वारदात को अंजाम देने वाले अपराधियों का पीछा नहीं करने की हिदायत भी दी है।

पत्र में कहा कि कापरेन और लाखेरी क्षेत्र में हुई चोरी और लूट की घटना मेरी एमपी-यूपी कि गैंग के सदस्य द्वारा की गई है, मेरी गैंग के सदस्यों का एसपी पीछा कर रहा है। पुलिस लगातार दबिश दे रही है यह अच्छा नहीं होगा। कलक्टर साहब समझा लो, हमारे पास कोई काम धंधा भी नही रहा है और एसपी हमारे इस धंधे को चौपट करने जा रहा है। हमारे से जो पैसा चाहिए हमसे संपर्क कर लो। पत्र में मोबाईल नंबर भी लिखा हुआ है।

जिला कलेक्टर कार्यलय को मिले पत्र को जिला पुलिस अधीक्षक के पास भेजा गया, जहां से कोतवाली थाना अधिकारी को मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही के निर्देश दिए थे, जिस पर कोतवाली थाना अधिकारी ने मामला दर्ज कर अनुसंधान शुरू किया है। 

पत्र 2 दिन पुराना बताया जा रहा है जो कोतवाली थाना पुलिस को शुक्रवार को ही मिला। हालांकी धमकी देने वाले व्यक्ति ने पत्र में एसपी का नाम जयदेव लिखा है। कोतवाली थाना पुलिस ने धारा 386 मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।