बूंदी : 10 साल पहले आयुर्वेदिक विभाग के अधिकारियों व पुलिस ने की थी कार्यवाही,सत्यकाम दंत मंजन के कट्टे किये थे जप्त

 - अब कोर्ट के आदेश से हुई जप्तशुदा माल की इन्वेंट्री
 
10 साल पहले आयुर्वेदिक विभाग के अधिकारियों व पुलिस ने की थी कार्यवाही

बूंदी। मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट बूंदी के आदेश से आयुर्वेदिक विभाग बूंदी में रखे जप्तशुदा माल की इन्वेंट्री (फ़ोटो-वीडियोग्राफी) 21 दिसंबर कराई गई और माल के हालात का अंकन किया गया। 5 सदस्यी कमेटी ओर आरोपी के अधिवक्ता इन्वेंट्री के दौरान मौजूद रहे और प्रत्येक कट्टे को कमेटी की निगरानी में चेक किया जाकर इन्वेंट्री (फ़ोटो-वीडियोग्राफी) करवाई और माल के हालात अंकित किये। कार्यवाही दोपहर 12 से 3 बजे तक चली।

,सत्यकाम दंत मंजन के कट्टे किये थे जप्त

गौरतलब है की लगभग 10 वर्ष पूर्व धाभाईयों के चौक में आयुर्वेदिक विभाग के अधिकारियों व पुलिस द्वारा छापेमारी करके 74 सत्यकाम दंत मंजन के कट्टे जप्त किये गए थे, जिन्हें जप्ती के बाद आयुर्वेदिक विभाग बूंदी में रखवाया गया था। चूंकि केस अब अंतिम चरण में है और न्यायालय के समक्ष माल नही लाया गया था।

 माल न्यायालय में प्रस्तूत करने को लेकर आयुर्वेदिक विभाग के अधिकारियों व केस से सम्बंधित अधिकारियों द्वारा न्यायालय में प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया गया था कि माल की हालत खराब होने पर माल न्यायालय तक लाना मुमकिन नही है। इस पर  न्यायालय द्वारा इन्वेंट्री की कार्यवाही को आदेशानुसार अंजाम दिया गया। इन्वेंट्री के दौरान अधिकतर जप्त कट्टे गले-फटे हुए निकले।