बूंदी : कोरोना के 4 नये मामलों के साथ हुए 10 एक्टिव केस, कोविड-19 नियंत्रण कक्ष स्थापित

 
कोरोना के 4 नये मामलों के साथ हुए 10 एक्टिव केस, कोविड-19 नियंत्रण कक्ष स्थापित

बूंदी। जिले में कोरोना की तीसरी लहर की दस्तक के साथ शुक्रवार को कोरोना संक्रमण के 4 नए मामले सामने आए हैं। इससे पहले गुरुवार को करीब 6 महीने बाद कोरोना के 6केस सामने आए थे, इस प्रकार जिले में अब कोरोना संक्रमितों की संख्या 10 हो गई है। गुरुवार को 772 लोगों की सैंपलिंग की गई थी। जिसमें से चार कोरोना संक्रमित मिले। जिनमें बूंदी शहर के रजत गृह कॉलोनी, गैस गोदाम माटुंदा रोड़ इलाके से एक-एक और लाखेरी कस्बे के एसीसी कॉलोनी एवं गांधीपुरा इलाके से एक-एक जना संक्रमित होना सामने आया हैं। कोरोना के बढ़ते प्रभाव को लेकर चिकित्सा विभाग सहित जिला प्रशासन पूरी तरीके से मुस्तैद है।

कोरोना वायरस (कोविड-19) कोविड के नए वैरियंट ’ओमिक्रॉन’ के संक्रमण के लगातार बढ़ते मामलों की स्थिति से निपटने के लिए राज्य सरकार द्वारा राज्य स्तर पर एक राज्य स्तरीय कोविड-19 नियंत्रण कक्ष (गृह) का गठन किया गया है। जिला कलक्टर रेणु जयपाल ने जिले में राज्य सरकार के निर्देशानुसार प्रभारी मोनिटरिंग एवं नियमित रूप से समय-समय पर सूचनाओं के आदान-प्रदान के लिए जिला मुख्यालय, कार्यालय जिला कलक्टर परिसर में अनुसूचित जाति जनजाति विŸा एवं विकास निगम लिमिटेड में आगामी आदेश तक नियंत्रण कक्ष की स्थापना की है।

जिला कलक्टर ने बताया कि नियंत्रण कक्ष शुक्रवार से ही प्रभावी होगा। उन्होंने निर्देश दिए कि समस्त उपखण्ड मजिस्ट्रेट भी अपने-अपने उपखण्ड कार्यालय में इसी तरह नियंत्रण कक्ष की स्थापना कर अधिकारियों व कर्मचारियों की ड्यूटी पारी अनुसार लगाते हुए प्रति इस कार्यालय को एवं उक्त नियंत्रण कक्ष को भिजवाएं। जिला स्तर पर स्थापित उक्त नियंत्रण कक्ष के प्रभारी सहायक निदेशक, सांख्यिकी रविन्द्र कुमार वधवा मोबाईल नम्बर 9414317601 एवं सहायक सांख्यिकी अधिकारी सहायक प्रभारी सत्यवान शर्मा होंगे। नियंत्रण कक्ष का दूरभाष नम्बर 0747-2442305 रहेगा तथा 24 घण्टे कार्यरत रहेगा।