बूंदी : आकाशीय बिजली गिरने से 52 बकरियों की मौत, 3 बालिकाएं बाल-बाल बचीं

 माता जी के मंदिर के गुंबद को भी आकाशीय बिजली से क्षति पहुंची है।
 
मृत पडी बकरियां
 बूंदी । जिले के डाबी थाना क्षेत्र की ग्राम पंचायत डोरा के ग्राम कछालिया मजरा ट्रक का झोपड़ा में गुरुवार दोपहर 3 बजे के करीब आकाशीय बिजली गिरने से 52 बकरियों की मौत हो गई। वहीं बकरियां चरा रही 3 बालिकाएं ईश्वर कि कृपा से सुरक्षित बच गई। इस हादसे से जगदीश और रामलाल पशुपालकों को भारी नुकसान हुआ है। दोनों के घरों में कोहराम मचा हुआ है।

जानकारी के मुताबिक, गुरुवार को रोजाना की तरह पशुपालक जगदीश पुत्र रामलाल, रामलाल पुत्र हरला बंजारा की 52 बकरियां गांव के पास ही चराने के लिए इन्ही के परिवार की 3 बालिकाएं लेकर गई थी। बरसात होने के कारण बकरियां गांव में बने माताजी के मंदिर के अंदर चली गई तथा इन्हें चरा रही 3 बालिकाएं भी मंदिर की दीवार के पास खड़ी हो गई, इसी दौरान आकाशीय बिजली गिरने से एक साथ दोनों पशुपालकों की पूरी 52 बकरियों की मौके पर ही मौत हो गई। वही मंदिर के गुंबद को भी आकाशीय बिजली से क्षति पहुंची है।

आकाशीय बिजली गिरने की सूचना पर सरपंच कांति बाई भील, ग्राम विकास अधिकारी प्रेषक, उप सरपंच मुकेश बंजारा, अर्पित भाट, पप्पू भाट, जालिया बंजारा मौके पर पहुंचे और रामलाल और जगदीश के परिवार को ढांढस बंधाया। इसके बाद मामले की सूचना डाबी थाना पुलिस को भी दी गई जिस पर डाबी थाना पुलिस ने मर्ग दर्ज कर लिया है।

आर्थिक सहायता देने की मांग

ग्रामीण अर्पित भाट ने बताया कि आकाशीय बिजली गिरने से 52 बकरियों की हुई मौत से दोनों पशुपालकों के भारी नुकसान हुआ है, इनके कमाई का कोई ओर साधन नही हैं, यह दोनो परिवार इसी से अपनी आजिविका चलाते है। वही ईश्वर की कृपा से दोनों बालिकाएं सुरक्षित बच गई। ग्रामीणों ने दोनों परिवारों को जल्द से जल्द आर्थिक सहायता देने की मांग की है ।