बस्सी के रीट परीक्षा केंद्र पर पेपर आउट होने का आरोप, अभ्यर्थियों ने किया हंगामा, पुलिस को करना पड़ा हल्का बल प्रयोग

राजधानी जयपुर के बस्सी थाना इलाके में रीट परीक्षा की प्रथम पारी खत्म होने के बाद अभ्यर्थियों ने पेपर आउट होने और परीक्षा केंद्र पर परीक्षा करवा रहे लोगों पर धांधली का आरोप लगाते हुए हंगामा कर दिया।
 
अभ्यर्थियों पर हल्का बल प्रयोग करना पड़ा

जयपुर। राजधानी जयपुर के बस्सी थाना इलाके में रीट परीक्षा की प्रथम पारी खत्म होने के बाद अभ्यर्थियों ने पेपर आउट होने और परीक्षा केंद्र पर परीक्षा करवा रहे लोगों पर धांधली का आरोप लगाते हुए हंगामा कर दिया।
इस पर एडिशनल डीसीपी ईस्ट राजर्षि वर्मा ने अपनी पूरी टीम के साथ हंगामा कर रहे अभ्यर्थियों से समझाइश का काफी प्रयास किया। लेकिन मामला शांत होने की बजाय और ज्यादा तूल पकड़ने लगा और मौके पर कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस को हंगामा कर रहे अभ्यर्थियों पर हल्का बल प्रयोग करना पड़ा।

इस दौरान पुलिस ने हंगामा कर रहे कुछ अभ्यर्थियों को हिरासत में ले लिया और बाद में उन्हें हिदायत देकर छोड़ दिया। पूरे प्रकरण को लेकर एडिशनल डीसीपी ईस्ट राजर्षि वर्मा ने बताया कि बस्सी तिलक कॉलेज में बनाए गए रीट परीक्षा केंद्र पर अभ्यर्थियों को पेपर बांटने में कुछ मिनट की देरी हुई है, दरअसल जिस सीक्वेंस में पेपर अभ्यर्थियों को बांटा जाना था, उसमें कुछ गड़बड़ी हुई और जल्द ही उस गड़बड़ी को सुधारते हुए सीक्वेंस के अनुसार अभ्यर्थियों को पेपर बांटा गया।

साथ ही सील्ड एनवलप में से पेपर निकाल कर अभ्यर्थियों को बांटा गया है, जिसकी पूरी वीडियोग्राफी करवाई गई है। ऐसे में अभ्यर्थियों द्वारा पेपर आउट होने और परीक्षा करवा रहे लोगों पर धांधली का आरोप लगाया जाना पूरी तरह से बेबुनियाद है। वहीं इस पूरे प्रकरण को लेकर हंगामा कर रहे अभ्यर्थियों का कहना है कि उन्हें जो पेपर परीक्षा सेंटर में बांटे गए वह सील पैक नहीं थे और साथ ही पेपर बांटने में भी आधा घंटे की देरी की गई।
अभ्यर्थियों का आरोप है कि वह लम्बे समय से परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं और परीक्षा के दिन परीक्षा सेंटर पर इस तरह की अनियमितता उनकी पूरी मेहनत पर पानी फेर रही है। हालांकि हंगामा बढ़ता देख पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर भीड़ को खदेड़ा और साथ ही समझाइश कर मामला शांत करवाया।