बाड़मेर ACB ने तीन हजार की रिश्वत लेते एक दलाल को पकड़ा, पंचायत रोजगार सहायक फरार

 
बाड़मेर एसीबी ने तीन हजार की रिश्वत लेते एक दलाल को पकड़ा, पंचायत रोजगार सहायक फरार

 बाड़मेर । भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB)की टीम ने ग्राम पंचायत दीनगढ़ पंचायत समिति धनाऊ के एक दलाल को ₹3000 की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है। जबकि कार्यवाही की भनक लगते ही कनिष्ठ सहायक मौके से फरार हो गया। आरोपी ने यह रिश्वत की राशि नरेगा योजना अंतर्गत स्वीकृत हुए टांके कि मस्टरोल की हाजिरी चढ़ाने की एवज में ली थी। आरोपी ₹10000 की मांग कर रहे थे। जो पहले 2 हजार ले चुका था।

एसीबी के पुलिस निरीक्षक मुकनदान ने बताया कि परिवादी फूसाराम ने 12 जनवरी को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो बाड़मेर में रिपोर्ट पेश कर बताया कि मेरी भाभी के नाम से ग्राम पंचायत दीनगढ़ में नरेगा योजना अंतर्गत टांका का स्वीकृत हुआ है, मेरे गांव के कनिष्ठ सहायक पूनमाराम उक्त टांके के मस्टररोल में नाम व हाजरी चढ़ाने की एवज में 10,000रूपये की मांग कर रहा है तथा रिश्वत राशि सरपंच के ट्रैक्टर ड्राइवर अमराराम को देने की कह रहा है। जिस पर 12 जनवरी को ही गोपनीय सत्यापन करवाया गया तो सत्यापन के दौरान आरोपी अमराराम द्वारा पूनमाराम कनिष्ठ सहायक ग्राम पंचायत दीनगढ़ के लिए ₹10000 की मांग कर ₹2000 उसी समय ले लिए। तथा 3 हजार रूपये एक-दो दिन में देने के लिए कहा एवं शेष ₹5000 टांके का आधा भुगतान आने के बाद देने को कहा। जिस पर आज 15 जनवरी को ट्रेप की कार्यवाही का आयोजन कर आरोपी अमराराम को परिवादी फूसाराम से ₹3000 की रिश्वत राशि लेते रंगे हाथों पकड़ा है।

आरोपी अमराराम की आरोपी पूनमाराम कनिष्ठ सहायक से जरिए मोबाइल पर वार्ता करवाई जिसमें आरोपी अमराराम ने रिश्वत राशि प्राप्त करने मस्टरोल में नाम चढ़ाने की सहमति जाहिर की। आरोपी अमराराम के पकड़े जाने की भनक लग जाने से आरोपी पूनमाराम रोजगार सहायक मौके से फरार हो गया, जिसकी धरपकड़ के प्रयास किए जा रहे है।