बाड़मेर के लाल शहीद सांवलाराम विश्नोई का अंतिम संस्कार, हजारों लोगों ने नम आंखो से दीं अंतिम विदाई

 
Last rites of Barmer's Red Martyr Sanvlaram Vishnoi, thousands of people bid farewell with moist eyes

बाड़मेर। बाड़मेर के लाल बांड गांव निवासी शहीद सांवलाराम विश्नोई (Marty Sanvlaram Vishnoi resident of Lal Band village of Barmer) का आज राष्ट्रीय सम्मान से उनके पैतृक गांव में अंतिम संस्कार किया (He was cremated with national honor in his native village.) गया। हजारों की तादात में लोगो ने देश के जांबाज को अपना अंतिम सलाम दिया। इससे पूर्व जोधपुर से लेकर पैतृक गांव बाण्ड तक जगह जगह पार्थिव देह पर पुष्प अर्पित कर थार के लाल को अंतिम विदाई दी सरहदी बाड़मेर की मिट्टी ने सात समंदर पार अपनी वीरता और बहादुरी का लोहा मनवाया है।

Last rites of Barmer's Red Martyr Sanvlaram Vishnoi, thousands of people bid farewell with moist eyes

कांगो में मंगलवार को हुई हिंसक घटना में संयुक्त राष्ट्र शांति मिशन पर सीमा सुरक्षा बल के सांवला राम बिश्नोई तैनात थे। बीएसएफ में मुख्य आरक्षक पद पर तैनात थे। सैन्य कैंप पर हुए हिंसक हमले में 26 जुलाई को सांवलाराम विश्नोई कांगो में शहीद हुए। 23 वर्ष की सेवा में सदैव ईमानदारी व समर्पण के साथ निर्वहन किया।

Last rites of Barmer's Red Martyr Sanvlaram Vishnoi, thousands of people bid farewell with moist eyes

रविवार को विमान से जोधपुर पार्थिव देह लाया गया था जिसके बाद रविवार रात तक सड़क मार्ग से बाड़मेर पार्थिव देह लाया गया। आज सोमवार सुबह बाड़मेर में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन हुआ जिसमें बीएसएफ जवानों ने गार्ड ऑफ ऑनर देकर राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। शहीद के दोनों बेटे अक्षय व अभिनव ने सबसे पहले पुष्प अर्पित किए। वहीं वन एव पर्यावरण मंत्री हेमाराम चौधरी, श्रम मंत्री सुखराम विश्नोई, गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष मेवाराम जैन, कलेक्टर लोकबंधु, एसपी दीपक भार्गव व बीएसएफ के अधिकारियों ने पुष्प अर्पित किए।

Last rites of Barmer's Red Martyr Sanvlaram Vishnoi, thousands of people bid farewell with moist eyes

बाड़मेर से पार्थिव देह उनके पैतृक गांव बांड स्थित घर पहुंचा जिसमें बीच में जगह-जगह हज़ारों की संख्या में लोगों ने पुष्प अर्पित किए। शहीद के घर पर पार्थिव देह पहुंचने पर लोगों की आंखे नम हो गई, परिवार और अन्य लोगों ने अंतिम दर्शन किए जिसके बाद पैतृक गांव में ही राष्ट्रीय सम्मान से अंतिम संस्कार किया। कांगो में शहीद हुए बाड़मेर के लाल सांवलाराम विश्नोई को हज़ारों लोगों ने नम आंखो से अंतिम विदाई दी। अंतिम संस्कार में वन एव पर्यावरण मंत्री हेमाराम चौधरी, श्रम मंत्री सुखराम विश्नोई, चौहटन विधायक पदमाराम, बीएसएफ के डीआईजी अश्विनी जग्गी, जिला कलेक्टर लोकबंधु यादव, पुलिस अधीक्षक दीपक भार्गव, भाजपा जिलाध्यक्ष आदूराम मेघवाल, प्रदेश मंत्री केके विश्नोई सहित प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहे।