ट्रैक्टर-ट्रॉली में शादी से लौट रहे बारातियों को 50 फीट तक घसीटता ले गया ट्रेलर, तीन महिलाओं सहित 4 की मौत

 
 Tractor. Trolley dragged the bridegrooms returning from marriage to 50 feet, 4 killed including three women

बारा।  नेशनल हाईवे-27 पर ट्रेलर के बारातियों से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली को टक्कर मार देने सेा सड़क हादसे में 4 लोगों की मौत हो गई है। हालाकि 15 लोग घायल हुए है।। घायल व्यक्तियो को इलाज के लिए बारां अस्पताल में भर्ती कराया गया। जिनमें कुछ की हालत गंभीर है। 2 गंभीर घायलों को कोटा रेफर किया है। हादसा  इतना गंभीर है कि ट्रैक्टर-ट्रॉली में बैठे लोग उछलकर दूर जा गिरते हैं। कुछ लोग ट्रेलर के साथ 50 फीट तक घिसटते चले गए थै। हादसे के बाद सड़क पर चारों तरफ खून से लथपथ घायल नजर आए है। बारां से गुजर रहे नेशनल हाईवे-27 पर अंडर कंस्ट्रक्शन जैन तीर्थ के सामने मंगलवार सुबह 6 बजे यह सड़क हादसा हुआ है। हादसे में मृतक और घायल लोग बटावदा गांव में शादी समारोह में अंता थाना क्षेत्र के हनुवतखेड़ा लौट रहे थे।

ट्रॉली में महिला-पुरुष व बच्चों सहित 24 लोग सवार थे। रास्ते में डीजल लेने के लिए ट्रैक्टर ड्राइवर ने जैन तीर्थ के पास कट से ट्रैक्टर को पेट्रोल पंप की तरफ मोड़ दिया था। इस दौरान पीछे से आए तेज रफ्तार ट्रेलर ने ट्रैक्टर को टक्कर मार दी थी। हादसे की सूचना पर 3 एंबुलेंस मौके पर पहुंचकर घायलों को बारां जिला अस्पताल पहुंचाया है। 3 महिलाओं और 1 पुरुष को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया है। मृतकों की पहचान रामकरण सैन (50), भूली बाई (65), चंद्रकला (55) और सुशीला बाई (35) के नामो से हुई है। हादसे में घायल 17 लोगों का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है। जिनमें कुछ लोग गंभीर है।

कुछ अन्य घायलों को हल्की चोटें आने पर प्राथमिक इलाज किया गया है। घायलों में छोटे बच्चों के साथ महिलाएं और पुरुष भी हैं। जिला अस्पताल में डॉक्टरों की कमी के चलते मरीजों को इलाज में देरी का सामना करना पड़ा थ। घटना की सूचना के बावजूद भी जिला अस्पताल में डॉक्टर मौजूद नहीं थे। इसे लेकर कलेक्टर ने पीएमओ को जमकर लताड़ लगाई है।