कोटा से बांसवाड़ा आ रहे सदर थाना CI रमेशचंद्र की सड़क हादसे में मौत, हाइवे पर खेरपुरा पुलिया से गिरी कार

 
कोटा से बांसवाड़ा आ रहे सदर थाना सीआई रमेशचंद्र की सड़क हादसे में मौत, हाइवे पर खेरपुरा पुलिया से गिरी कार

बांसवाड़ा। बांसवाड़ा के सदर थानाधिकारी रमेशचंद्र सीआई की रविवार को एक सड़क हादसे में मौत हो गई। वे रविवार सुबह कोटा से बांसवाड़ा आ रहे थे। चित्तौड़गढ़-कोटा हाइवे पर उनकी कार अनियंत्रित होकर खेरपुरा पुलिया से नीचे जा गिरी। एक्सीडेंट का शोर सुनकर स्थानीय लोगों ने कार सीधी कर मीणा को बाहर निकाला।

सूचना पर पारसोली थाना पुलिस ने रमेशचंद्र को पारसोली स्थित स्वस्थ्य केन्द्र पहुंचाया, जहां उनकी गंभीर हालत को देखते हुए चित्तौड़गढ़ जिला अस्पताल रैफर किया गया। वहां उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई। इधर, बांसवाड़ा पुलिस को घटना की जानकारी मिलने के बाद महकमे में शोक की लहर छा गई। बांसवाड़ा एसपी राजेश कुमार मीणा, एएसपी कैलाश सांदू, डीएसपी सूर्यवीर सिंह सहित अन्य अधिकारियों ने शोक व्यक्त किया है।

पारसोली थानाधिकारी रामदेव सिंह विधुड़ी ने बताया कि दुर्घटना की सूचना पर थाने का स्टाफ खेरपुरा पहुंचा। तब तक स्थानीय लोगों ने घायल अवस्था में रमेशचंद्र को बाहर निकाल लिया था। दुर्घटना में कार बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई थी। ड्राइवर साइड का हिस्सा ज्यादा डैमेज हुआ, जिससे रमेशचंद्र चपेट में आ गए।

गंभीर हालत में रमेश को पारसोली लाया गया। वहां प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें जिला अस्पताल के लिए रैफर किया गया। उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई। इसके बाद पुलिस ने परिवार को मामले की जानकारी दी। इसके बाद शव को मोर्चरी में शिफ्ट कराया गया। गौरतलब है कि करीब डेढ़ महीने पहले ही रमेशचंद्र ने सदर थानाधिकारी की जिम्मेदारी संभाली थी।

इससे पहले वे जयपुर से तबादला होकर बांसवाड़ा आए थे और कुछ दिन तक बांसवाड़ा पुलिसलाइन में रहे थे।
बांसवाड़ा डीएसपी सूर्यवीर सिंह ने बताया कि जयपुर के राजस्थान पुलिस अकादमी में आदर्श थानों की ट्रेनिंग थी। सदर थानाधिकारी रमेशचंद्र भी उसी ट्रेनिंग में शामिल होने के लिए पिछले रविवार को निकले थे। सोमवार से उन्होंने ट्रेनिंग में हिस्सा लिया। ट्रेनिंग शुक्रवार शाम को खत्म हुई। इसके बाद एक दिन वे जयपुर रुके और रविवार को ड्यूटी पर लौट रहे थे।