अलवर में पेपर लीक होने व नकल कराने के आरोप लगाते हुए परीक्षार्थियों ने किया हंगामा

 
परीक्षार्थियों ने किया हंगामा

अलवर। जिले के नीमराना क्षेत्र के मांडण थाना अंतर्गत ढीकवाड़ गांव स्थित कमलादेवी महाविद्यालय रीट के परीक्षा केंद्र पर अभ्यर्थीयों ने हंगामा खड़ा कर दिया। यहां परीक्षार्थियों और परिजनों ने पेपर लीक होने व कॉलेज प्रबंधन पर नकल कराने के आरोप लगाए हैं।

इतना ही नहीं परीक्षा का समय दस से साढ़े बारह बजे था लेकिन अभ्यर्थी ओएमआर शीट सहित ग्यारह बजे ही बाहर आ गए और पेपर रद्द करने की मांग करने लगे। यहां अभ्यर्थियों का आरोप था कि सेंटर पर पेपर साढ़े दस बजे पहुंचा जबकि कमरा नंबर तीन में आठ अभ्यर्थियों को नकल कराकर पेपर कराया जा रहा था, इसमें कॉलेज प्रबंधन पर मिली भगत के आरोप लग रहे हैं।

वहीं छात्रों के हंगामे के बाद भिवाड़ी जिला पुलिस अधीक्षक राममूर्ती जोशी और जिला कलेक्टर नंनुमल पहाड़िया भी मौके पर पहुंचे। जहां उन्होंने छात्रों से समझाइश की और सेंटर का पेपर दोबारा कराने का आश्वासन दिया। यह पेपर आउट माना जाए या नहीं इस पर प्रशासन जांच में जुटा है लेकिन अभ्यर्थियों का कहना था कि यह पेपर रद्द किया जाए। इस हंगामे के चलते कलेक्टर के आदेश पर टोंक से आए एक अभ्यर्थी मुकेश कुमार को हिरासत में ले लिया गया।

सबसे बड़ी बात यह है कि प्रशासन द्वारा नेट बंद कराने के बावजूद, यहां सीसीटीवी सर्विलांस को बाधित किया गया। वहीं हरियाणा सीमा से सटे होने के चलते यहां नेटवर्क भी काम करता रहा, इससे पेपर लीक होने की संभावना से भी इनकार नहीं किया जा सकता।

मौके पर पहुंचे जिला कलेक्टर और एसपी ने छात्रों से अपील की है कि अपना दूसरा पेपर जरूर दें। इसके लिए कलेक्टर गाड़ी में लगे माइक पर मुनादी करते भी नजर आए, इस दौरान पुलिस ने सख्ती भी दिखाई और ओएमआर शीट को बाहर लाकर दिखाने वाले टोंक निवासी मुकेश कुमार को हिरासत में भी लिया।