अलवर के पूर्व जिला कलेक्टर नन्नूमल पहाड़िया, RAS अशोक सांखला और एक दलाल 5 लाख की रिश्वत लेते गिरफ्तार

 
Former Alwar District Collector Nannumal Pahadia, RAS Ashok Sankhla and a broker arrested taking bribe of 5 lakhs

अलवर। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरों (ACB) ने शनिवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए अलवर के पूर्व कलेक्टर नंनुमल पहाड़िया (Nannumal Paharia, former collector of Alwar),  आरएएस अधिकारी अशोक सांखला (RAS officer Ashok Sankhla) और दलाल को 5 लाख की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया (Dalal arrested taking bribe of 5 lakhs) है। आरोपियों ने 16 लाख की डिमांड की थी। एसीबी की टीम आरोपी आईएएस, आरएएस और दलाल के घरों में सर्च कार्रवाई जारी है। इसके साथ ही इनके अन्य ठिकानों की भी तलाश जारी है। गौरतलब है कि आईएएस ननूमल पहाड़िया दो दिन पहले ही अलवर के जिला कलेक्टर के पद से रिलीव किए गए है। 

अलवर एसीबी ने शनिवार को कार्रवई करते हुये ननुमल पहाड़िया आईएएस, पूर्व जिला कलक्टर तथा अशोक साखला सैटलमेंट ऑफिसर कम राजस्व अपीलीय प्राधिकारी व उनके दलाल नितिन शर्मा को 5 लाख रुपये रिश्वत राशि लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। एसीबी के एएसपी विजय सिंह ने बताया कि एसीबी को परिवादी द्वारा शिकायत मिली थी कि उसकी फर्म द्वारा करवाये जा रहे हाइवे निर्माण कार्यों को निर्बाध रूप से चलने देने की एवज में मासिक बन्धी के रूप में ननूमल पहाड़िया आईएएस और आरएएस अशोक साखला ने 16 लाख रुपये रिश्वत की डिमांड की थी। 

जिसपर एसीबी के अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस दिनेश एमएन के सुपरविजन में एसीबी अलवर इकाई के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय सिंह के नैतृत्व में शिकायत का सत्यापन कर शनिवार को एसीबी के पुलिस उपाधीक्षक महेन्द्र कुमार एवं उनकी टीम द्वारा ट्रैप की कार्रवाई की। अशोक सांखला पुत्र प्रभाती लाल निवासी गाव मदाल तहसील सांभर, जिला जयपुर को परिवादी से 8 लाख रुपए की रिश्वत प्राप्त कर, अपने दलाल नितिन शर्मा पुत्र अशोक शर्मा द्वारा ले जाते हुये एसीबी टीम द्वारा रंगे हाथों पकड़ लिया गया। प्रकरण में ननूमल पहाड़िया पुत्र छोटलाल निवासी पथेना, तहसील भुसावर, जिला भरतपुर को कलेक्टर आवास से गिरफ्तार किया है। उल्लेखनीय है कि आरोपी अशोक सांखला आरएएस द्वारा परिवादी से पूर्व में ही 5 लाख रुपये रिश्वत के रूप में वसूल कर चुका था।