झालावाड में कांस्टेबल के लिए 10 हजार की रिश्वत लेते एसीबी ने दलाल को किया गिरफ्तार, कांस्टेबल हुआ फरार

 
corruption

 झालावाड़। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो झालावाड़ की टीम ने सदर थाने के कांस्टेबल के लिए रिश्वत लेते एक दलाल को पकड़ा है। एसीबी ने दलाल के पास से 10 हजार की राशी बरामद की है। दलाल नाथूलाल ने सदर थाने में तैनात कांस्टेबल सुरेश कुमार के लिए रिश्वत ली थी। वहीं एसीबी की कार्यवाही की भनक लगते ही कांस्टेबल थाने से फरार हो गया। झगड़े के राजीनामे की एवज में कांस्टेबल, दलाल के जरिए रिश्वत ले रहा था।

एसीबी झालावाड़ के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक भवानी शंकर मीणा ने बताया कि परिवादी शिवराज मेघवाल निवासी मोतीपुरा ने 18 सितंबर को शिकायत दी थी। जिसमें बताया कि उसका टोल खेड़ा गांव के एक व्यक्ति से झगड़ा हुआ था। जिसकी शिकायत सदर पुलिस थाने में दर्ज हुई थी। 15 दिन पहले दोनों पक्षों में राजीनामा हो गया था। लेकिन थाने के कांस्टेबल सुरेश कुमार ने थाने में राजीनामा कराने की एवज में 35 हजार की रिश्वत मांगी। रिश्व्त की राशि मोतीपुरा निवासी दलाल नाथूलाल के जरिए मांगी, जिस पर सौदा 20 हजार में तय हुआ।

शिकायत के सत्यापन के दोरान रिश्वत मांगने की पुष्टि हुई। जिसके बाद एसीबी की टीम ने दलाल को पकड़ा। एसीबी की टीम को देख दलाल ने रिश्वत की रकम नीचे फेंक दी। वहीं दलाल को ट्रेप करने के बाद एसीबी की टीम सरकारी गाड़ी से सदर थाने पहुंची। टीम को देखकर आरोपी कांस्टेबल मौके से फरार हो गया। पूछताछ में सामने आया कि पुलिसकर्मी ने लोगो से पैसे उगाही के लिए हर गांव में दलाल तैयार कर रखे थे। एसीबी की टीम सभी एंगल से मामले की जांच कर रही है।