अधिकारियो और ठेकेदारों के गठजोड़ से बर्बाद हुई राजस्थान की सड़के,PWD विभाग मे भ्रष्टाचार पर बोले CM गहलोत

 
CM

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेश मे PWD विभाग में अधिकारी और ठेकेदारों के गठजोड़ को लेकर बड़ा बयान दिया। मुख्यमंत्री आवास पर VC के जरिए आयोजित कार्यक्रम मे CM ने कहा प्रदेश मे जोधपुर की सड़को की हालत मैंने देखी बाकी जगह भी यही स्थिति है। इसकी वजह XEN स्तर के अधिकारियों का ठेकेदारों से पार्टनर बन जाना है। भ्रष्टाचार बढ़ जाता है ठेकेदार क्वालिटी मे समझौता करता है। ठेकेदारो के साथ अधिकारियो की पार्टनरशिप से सड़को की क्वालिटी खराब होती है। सीएम ने कहा कुछ भी हो सब मंजूर है। पर सड़को की क्वालिटी से समझौता मंजूर नही होगा। सीएम  ने PWD विभाग के अधिकारियो को कड़े लहजे मे कहा मै नीचे के अधिकारियो की नही प्रमुख अधिकारियों की जिम्मेदारी मानूंगा।

आप चाहे उन्हे APOकरे या सस्पेंड करे। कुछ भी करो पर सड़कों की क्वालिटी से समझौता नही होना चाहिए। सीएम ने कहा ठेका देते समय तो पाबंद किया जाता है। पर उसके बाद ध्यान नही दिया जाता है। ठेकेदार सड़को को रिपेयर नही करता है। जनता को परेशानी होती है। ऐसे मे मॉनिटरिंग का काम नही हो रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा अधिकारियों को खुद से पूछना चाहिए जनता के हित में आप काम कर रहे है या नही। पब्लिक के हित मे काम करना सर्वाेपरि होना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा जोधपुर की सड़के बर्बाद हो चुकी है। वहा मैने अधिकारियों को दो टुक शब्दो मे कह दिया है।

जब धन की कमी नही तो फिर ऐसी स्थिति क्यों है। अधिकारियो को फील्ड मे दौरे करने चाहिए JENऔर AEN के पद पता नही क्यो खत्म किए गए है। मंत्री कह रहे है भर्ती की जा रही है। सीएम ने कहा मुझे नही पता यह फैसला हमारे समय या BJP के समय  हुआ। पर इन पदो की अपनी उपयोगिता है। मुख्यमंत्री ने सड़कों के बहाने मोदी सरकार पर भी निशाना साधा है। राजस्थान सड़को के मामले मे आगे रहे यही हमारी प्राथमिकता है। एक समय गुजरात की सड़के अच्छी मानी जाती थी। पर आज गुजरात की सड़के खराब है। मोदी और अमित शाह के राज्य मे सड़के दयनीय स्थिति मे है।