पायलट खेमें के विधायकों ने CM गहलोत पर बोला हमला, कहा- सरकार पोस्टर हटा सकती है, दिलों से हटा कर देखें

 
Pilot camp MLAs attacked CM Gehlot, said- government can remove the poster, remove it from hearts

जयपुर। राजस्थान के पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट (Former Deputy CM of Rajasthan Sachin Pilot) को सीएम बनाने की एक बार फिर खुलकर पैरवी की है। पायलट के जन्मदिन (pilot's birthday) पर आयोजित कार्यक्रम के बाद पायलट समर्थक विधायक वेदप्रकाश सोलंकी और इंद्राज गुर्जर (Pro-Pilot MLAs Vedprakash Solanki and Indraj Gurjar) ने कहा कि सब्र का बांध टूट रहा है। जबकि वेदप्रकाश सोलंकी ने कहा कि सचिन पायलट को सरकार पोस्टर होर्डिंग्स से हटा सकती है। जनता के दिलों से पायलट को हटा कर देखे।

उल्लेखनीय है कि सचिन पायलट ने एक दिन पहले ही आज अपना जन्मदिन मनया है। पायलट का जन्मदिन 7 सितंबर को मनाया जाता है। लेकिन 7 सितंबर को कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होने की वजह से एक दिन पहले ही राजधानी जयपुर में पायलट समर्थकों ने बड़ा आयोजन किया। पार्टी आलाकमान को सियासी मैसेज देने की कोशिश की है।

कार्यक्रम के बाद राजधानी जयपुर में विधायक वेदप्रकाश सोलंकी ने कहा की पायलट की लोकप्रियता से विरोधी घबरा गए हैं। सिविल लाइन क्षेत्र में पोस्टर-होर्डिंग हटाने के आदेश 3 सितंबर को ही जारी कर दिए। सोलंकी का कहना है कि जन्मदिन से 3 दिन पहले के ये आदेश यह दर्शाता है कि विरोधियों में किस कदर घबराहट है। पायलट के जन्मदिन बधाई के जो पोस्टर लगे, उन्हें रातोंरात हटाए गए। सोलंकी ने कहा कि इससे पहले भी नेताओं के बधाई के पोस्टर लगते रहे हैं। भैरोंसिंह शेखावत के लगते थे और भी नेताओं के लगते हैं, लेकिन पायलट के पोस्टर को हटाना निंदनीय है। सोलंकी ने कहा कि पार्टी आलाकमान को सचिन पायलट के बारे में गंभीरता से सोचना चाहिए। 

विराटनगर विधायक इंद्राज गुर्जर ने कहा कि 21 सीटों पर हमारी पार्टी सिमट गई थी। उस पार्टी को वापस 100 सीटों पर लाने का काम सचिन पायलट ने किया। उसे आप कितने दिनों तक घर बैठाकर रखोगे? कहीं न कहीं सब्र का बांध सबका टूटने वाला है। उल्लेखनीय है कि इससे पहले भी विधायक इंद्राज गुर्जर ने गहलोत समर्थक गुर्जर विधायकों को चुनाव में देख लेने की धमकी दी थी। गहलोत समर्थक गुर्जर समाज के विधायकों को गद्दार तक बता दिया था।