Weather Alerts : राजस्थान में मानसून के दूसरे दौर में यहां बरसेगें बादल, अगले 24 घंटों में भारी बारिश की चेतावनी

 
Clouds will rain here in the second round of monsoon in Rajasthan, warning of heavy rain in next 24 hours

जयपुर। Weather Alerts- प्रदेश में इस साल मानसून ने एक ही महीने की बरसात में 6 दशक के रिकॉर्ड को धो दिया। प्रदेश में इस साल जुलाई महीने में मानसून की औसत बारिश से करीब 67 फीसदी से ज्यादा बारिश रिकॉर्ड की जा चुकी है तो वहीं इस मानसून सीजन की बारिश का आंकड़ा अगले 15 दिनों में पूरा होने की संभावना भी मौसम विभाग (weather department) की ओर से जताई गई है।

मानसून के दूसरे दौर की बारिश 3 अगस्त से होने की संभावना (Second round of monsoon rain likely from August 3) है, लेकिन इससे पहले ही एक बार फिर से प्रदेश के कई जिलों में मानसून के सक्रिय होने के साथ ही अच्छी बारिश दर्ज की गई। कल से प्रदेश के अधिकतर जिलों में फिर से मानसून सक्रिय होगा, इस दौरान करीब सभी जिलों में मध्यम से तेज बारिश की संभावना बनी हुई है।

बीते तीन दिनों से मानसून की बेरुखी के चलते तापमान में हल्की बढ़ोतरी दर्ज की जाने लगी है। इस दौरान प्रदेश के करीब सभी जिलों में जहां दिन के तापमान में करीब 3 से 4 डिग्री तक बढ़ोतरी दर्ज की जा चुकी है। वहीं रात के तापमान में भी करीब 3 से 5 डिग्री तक बढ़ोतरी दर्ज होने से एक बार फिर से लोगों को गर्मी और उमस सताने लगी है।

जयपुर मौसम केन्द्र निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि इस साल जुलाई महीने में मानसून की बारिश ने पिछले 66 साल का रिकॉर्ड तोड़ा है। वहीं पिछले 122 सालों में मानसून की चौथी सबसे ज्यादा बारिश दर्ज की गई है। इसके साथ ही प्रदेश के 31 जिलों में जुलाई महीने में औसत से ज्यादा बारिश दर्ज की जा चुकी है।
प्रदेश में 30 जून को मानसून ने दस्तक दी और उसके बाद से ही प्रदेश के करीब सभी जिलों में मानसून पूरी तरह से सक्रिय नजर आया। इस दौरान 31 जिलों में अब तक औसत से ज्यादा बारिश दर्ज की जा चुकी है। मानसून का पहला दौर 30 जून से 29 जुलाई तक चला तो वहीं अब 3 अगस्त से एक बार फिर से प्रदेश में मानसून के दूसरे दिन की बारिश की संभावना मौसम विभाग की ओर से जताई गई है।

इस दौरान जहां अधिकतर जिलों में मध्यम से तेज बारिश होने की चेतावनी मौसम विभाग द्वारा जारी की गई है तो वहीं कहीं कहीं भारी से अति भारी बारिश होने की संभावना भी मौसम विभाग की ओर से जताई गई है।