बांग्लादेश की पीएम हसीना ने अजमेर दरगाह पर चादर चढ़ा कर कि जियारत, मांगी दोनो देशो के बीच अमन- चैन की दुआ

 
Shekh hasina

 बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना अपने प्रतिनिधिमंडल के साथ एक दिवसीय दौरे पर आज अजमेर पहुंची है। करीमुद्दीन, अंजुमन कमेटी और अजमेर दरगाह दीवान की प्रतिनिधि ने पीएम शेख हसीना का दरगाह मे प्रवेश पर स्वागत कर हसीना ने विश्व प्रसिद्ध ख्वाजा गरीब नवाज की दरगाह मे जियारत की है। दरगाह मे कई सालो से जियारत करा रहे करीमुद्दीन ने पीएम हसीना की जियारत कराई है।

जियारत के बाद हसीना ने गरीब नवाज की मजार पर चादर चढ़ाई है। अपने खादिम की मौजूदगी मे दोनो देशों के बीच अमन-चैन, खुशहाली और तरक्की की दुआ मांगी है। हसीना बांग्लादेशी डेलिगेशन के साथ करीब 20 मिनट तक दरगाह परिसर मे रहह थी। अंजुमन कमेटी की ओर से  हसीना को तलवार भेंट करते हुए राजस्थानी चुनरी उड़ा कर 4 किलो सोहन हलवे की मिठाई तबर्रुक के रूप मे भेंट किया गया है। उनका संदेश भी इस मौके पर बांग्लादेशी भाषा मे पढ़ा गया है। इस मौके पर उन्होने ख्वाजा गरीब नवाज की दरगाह मे नजराना भी पेश किया है।

हसीना की यात्रा को लेकर पुलिस और जिला प्रशासन की ओर से सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए थै। चप्पे-चप्पे पर पुलिस कर्मी तैनात थे। ऊंची इमारतो पर हथियारबंद पुलिसकर्मी भी नजर बनाए हुए थे। आईजी और डीआईजी रैंक के अधिकारी सुरक्षा मे लगे हुए थे। पीएम हसीना सुबह 10 बजे जयपुर से रवाना होकर 12 बजे अजमेर सर्किट हाउस पहुंचीं थी। जिला प्रशासन के साथ राजस्थानी परंपराओं के तहत हसीना का स्वागत किया गया था। दरगाह से रवानगी के बाद हसीना वापस अजमेर के सर्किट हाउस पहुंचकर उन्होंने कुछ देर विश्राम कर फिर जयपुर के लिए रवाना हो गईं है।