राजस्थान में कोरोना के 1137 नए पॉजिटिव मिलें, जयपुर में 745 संक्रमित,1 मौत

 
राजस्थान में कोरोना के 1137 नए पॉजिटिव मिलें

जयपुर। राजस्थान में कोरोना की तीसरी लहर कहर बनकर आती दिखाई पड़ रही है। मंगलवार को प्रदेश में 1137 नये केस सामने आए हैं। वहीं, अकेले जयपुर में 24 घंटे में 745 लोगों के कोरोना की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। जयपुर में कोरोना से एक मरीज की मौत हुई है। मानसरोवर के बाद वैशाली नगर संक्रमण का बड़ा हॉटस्पॉट बन कर उभरा है। यहां सबसे ज्यादा 42 नए कोरोना मरीज मिले हैं।

इसके अलावा जोधपुर में 185, अजमेर में 43, अलवर में 39, बाड़मेर में 2, भरतपुर में 20, भीलवाड़ा में 21, बीकानेर में 12, चित्तौड़गढ़ में 7, दौसा में 1, धौलपुर में 1, गंगानगर में 7, कोटा में 31, सीकर में 2, सिरोही में 2, टोंक में 2, उदयपुर में 9 केस सामने आए है। राहत की बात यह है कि बांसवाड़ा, बारां, बूंदी, चुरू, डूंगरपुर, हनुमानगढ़, जैसलमेर, जालौर, झालावाड़, झुंझुनूं, करौली, नागौर, पाली, राजसमंद, सवाईमाधोपुर में एक भी केस नहीं मिला।

कोरोना के बढ़ते मामलों के साथ अब हॉस्पिटल में मरीजों की संख्या में भी इजाफा होने लगा है। प्रदेश के सबसे बड़े कोविड केयर हॉस्पिटल राजस्थान स्वास्थ्य एवं विज्ञान विश्वविद्यालय में दो दिन के अंदर भर्ती मरीजों की संख्या 4 गुना से ज्यादा हो गई।

जयपुर एसएमएस मेडिकल कॉलेज के प्रोफेसर डॉ. रमन शर्मा की मानें तो केस बढ़ने की वजह न्यू ईयर का सेलिब्रेशन हो सकता है। क्योंकि अमेरिका, यूके में क्रिसमस के 2 दिन बाद ही केस जस्ट डबल आने लगे थे। वही ट्रेंड यहां देखने को मिल रहा है। ओमिक्रॉन का इंक्यूबेशन पीरियड 2-3 दिन का है, जबकि यही डेल्टा वैरिएंट होता तो यह केस 6-7 दिन बाद सामने आते।