कांग्रेस का नये अध्यक्ष पद के लिए चुनाव पर गहलोत के बाद पायलट ने दिया ये बड़ा बयान

 
sachin

 कांग्रेस के अध्यक्ष पद हेतु चुनाव की तारीख का ऐलान होने के बाद सियासी गलियारो मे चर्चाए तेज हो गई। पद के लिए उम्मीदवारों के नाम मे सबके मन मे एक जिज्ञासा बन गई है। कांग्रेस की टॉप रैंक के लिए कई नाम सामने आये है। शशि थरूर और अशोक गहलोत के नाम को लेकर कई खबरे सामने आ आई है। अब सचिन पायलट ने भी कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव को लेकर बयान दिया।

 पायलट ने कहा कि अक्टूबर मे तस्वीर साफ हो जाएगी। कांग्रेस की कमान किसके हाथ मे होगी। राजस्थान के पूर्व उपमुख्यमंत्री व कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने पार्टी के अध्यक्ष पद को लेकर जारी अटकलो पर बुधवार को कहा राजनीति मे जो दिखता है वो होता नही है। अक्तूबर मे साफ हो जाएगा कि कौन पार्टी अध्यक्ष है। गुलाम नबी आजाद सहित कई अन्य नेताओ के कांग्रेस छोड़ जाने के सवाल पर उन्होंने कहा  जनता व समय तय करेगा इन लोगों का फैसला सही था या गलत।  पायलट ने आगे कहा किसी ने पहले भी कहा  राजनीति पार्टी मे चाहे वह हो या कोई और पार्टी का आदेश सबके लिए सर्वमान्य है। कांग्रेस मे खुले माहौल में चुनाव प्रक्रिया कराने का इतिहास रहा है उसे हम बनाए हुए है।

आजाद व अन्य नेताओं के पार्टी छोड़कर जाने पर उन्होंने कहा आज समय था भाजपा व केंद्र सरकार के खिलाफ चल रही मुहिम में कंधे से कंधा मिलाकर साथ देने का, अपनी भूमिका निभाने का लेकिन कहीं न कहीं ये नेता अपनी जिम्मेदारी से पीछे हटे है। जैसा सोनिया गांधी खुद कह चुकी है जिन लोगो को पार्टी ने इतना कुछ दिया है आज उनके लिए पार्टी को वापस देने का वक्त है ऐसा करने के बजाय नेता पार्टी छोड़कर चले गए  हैतो जनता व समय तय करेगा कि यह निर्णय कितना गलत व कितना सही था। उन्होंने कहा इस बढती हुई महंगाई के खिलाफ कांग्रेस पार्टी ने हल्लाबोल का नारा दिया है। 4 सितंबर को दिल्ली मे महारैली की जा रही है। उम्मीद है केंद्र की सोई हुई सरकार महंगाई को काबू करने के लिए कुछ कदम उठाने को मजबूर होगी।

उन्होंने दावा किया यह रैली व 7 सितंबर से शुरू हो रही कांग्रेस की  भारत जोड़ो यात्रा ऐतिहासिक रहेगी। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के आगामी जोधपुर दौरे का जिक्र करते हुए उन्होंने उम्मीद जताई कि शाह वहा पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना को राष्ट्रीय परियोजना का दर्जा देने के बारे में घोषणा करेंगे।