जिनके पास साधन व क्षमता नहीं है,उन लोगों का काम इन शिविरों में प्राथमिकता से हों - सचिन पायलट

 
 शिविरों में प्राथमिकता से हों - सचिन पायलट

टोंक, (शिवराज मीना)। पूर्व उपमुख्यमंत्री एवं टोंक विधायक सचिन पायलट ने कहा कि प्रशासन गांवों व शहरों के संग अभियान में सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ आमजन को मिलें। शिविर में गरीब, वंचित, कमजोर, बेरोजगार, अनुसूचित जाति, जनजाति आदि को राहत पहुंचाए। जिनके पास साधन व क्षमता नहीं है उन लोगों का काम इन शिविरों में प्राथमिकता से हों, तभी इन अभियान की सार्थकता होगी।

पायलट ने मंगलवार को जिला मुख्यालय के अग्निशमन केंद्र के सभा भवन में आयोजित प्रशासन शहरों के संग अभियान में मुख्य अतिथि के रूप में आमजन को संबोधित किया। पायलट ने जिला प्रशासन की सराहना करते हुए कहा कि टोंक जिला इस अभियान में पट्टा वितरण करने में टॉप तीन जिलों में शामिल हैं। यह हम सभी के लिए खुशी की बात है। आगामी दो-ढाई माह चलने वाले इन शिविरों में हमें लगातार बेहतर कार्य करना होगा। पूर्व में आयोजित हो चुके शिविर में रही कमियों को अधिकारी दुरूस्त करने का प्रयास करें। जिससे अधिकाधिक लोगों को इस अभियान का फायदा मिल सके।

श्री पायलट ने नगर परिषद टोंक द्वारा जारी स्टेट ग्रान्ट एक्ट के तहत 103 पट्टे, कृषि भूमि नियमन के तहत 21 पट्टे, 2 नाम हस्तान्तरण, एनयूएलएम योजना के तहत स्वरोजगार हेतु 9 व्यक्तियों को ऋण राशि का चौक, 12 स्वयं सहायता समूहों को 10-10 हजार रुपये का रिवोल्विंग फण्ड की राशि का चौक, 17 स्ट्रीट वेण्डर्स को वेण्डर कार्ड मौके पर वितरित किए। साथ ही प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 9 लाभार्थियों को 60-60 हजार रुपये का चौक का वितरण एवं सरस डेयरी बूथ आवंटन के तहत 4 आवेदको को डेयरी लाईसेन्स जारी किया। राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम द्वारा 16 सीनियर सीटिजन को स्मार्ट कार्ड दिए गए। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा 3 दिव्यांग व्यक्तियों को सहायता उपकरण (1 ट्राई साइकिल, 2 श्रवण यंत्र) वितरित किये।