अभिनेत्री कंगना रनौत के खिलाफ थानाधिकारी को सोंपा परिवाद, कार्यवाही की मांग

 
कोतवाली थाना अधिकारी को परिवाद देकर कार्यवाही की मांग

बूंदी। पिछले दिनों फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत द्वारा दिए गए बयान को लेकर मचा बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। कंगना के बयान के खिलाफ महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष रूपकला मीणा के नेतृत्व में पदाधिकारियों ने कोतवाली थाना अधिकारी सहदेव सिंह को परिवाद देकर कार्यवाही की मांग की है।

थाना अधिकारी को दिए ज्ञापन में कहा कि फिल्म अभिनेत्री व पदमश्री कंगना रनौत ने सार्वजनिक मंच पर कहा कि 1947 में भारत को आजादी मिली थी वह आजादी नहीं थी एक भीख थी, असल में आजादी 2014 में  मिली। जिसे एक चैनल द्वारा प्रसारित किया गया। कंगना के इस बयान से भारत के संविधान के प्रति अनास्था व राष्ट्र के प्रति विद्वेष और संविधान के प्रति असम्मान का आचरण किया गया है। इस कृत्य से विश्व स्तर पर हमारे देश की साख गिरी है।

परिवाद में कहा कि ऐतिहासिक तथ्य है कि हजारों लोगों ने आजादी में अपनी जानगवां कर शहादत दी, उस शहादत को भीख बता कर शहीदों और उनके वंशजों और प्रत्येक भारतीयों का अपमान किया है। जिलाध्यक्ष रूपकला मीणा ने कंगना रनौत और टीवी चैनल के मालिक, संचालक के विरुद्ध भारतीय दंड संहिता व आईटी एक्ट की धाराओं में मामला दर्ज कानूनी कार्यवाही की मांग की है।