in

जयपुर के सेंट्रल पार्क में सुबह से शाम तक दौड़ रहे हैं विधायक बलजीत यादव, जानिए क्या है इनकी मांग

MLA Baljeet Yadav is running from morning to evening in Jaipur's Central Park, know what is his demand

जयपुर। राजस्थान सरकार के निर्दलीय विधायक बलजीत यादव (Independent MLA Baljeet Yadav) राज्य एवं केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ जयपुर के सेंट्रल पार्क में दौड़ (Race in Jaipur’s Central Park) लगा रहे हैं। बहरोड़ विधायक बलजीत यादव ने सुबह 7ः09 पर रनिंग शुरू की और उसके बाद से लगातार दौड़ रहे हैं।

विधायक बलजीत ने बताया कि बेरोजगारी दिनों-दिन बढ़ती जा रही है। राज्य और केंद्र सरकार इसे लेकर गंभीर नहीं है। भर्तियों में राजस्थान के युवा पिछड़ते जा रहे हैं। बाहरी राज्यों के युवा प्रदेश में आकर नौकरी पा रहे हैं। कई राज्य ऐसे हैं, जहां पर बाहरी राज्यों के बेरोजगार युवकों को भर्ती में शामिल नहीं किया जाता। राजस्थान में बाहरी राज्यों के बेरोजगार युवकों को भी लिया जाता है। इससे राजस्थान का मूल युवा बेरोजगार ही रह जाता है। कॉन्स्टेबल भर्ती परीक्षा हुई। पेपर लीक हो जाने से सब कुछ खत्म हो जाता है। इसी के विरोध में आज सुबह से और शाम तक सूर्यास्त तक सेंट्रल पार्क में रनिंग कर रहा हूं।

बता दें, इससे पहले भी विधायक बलजीत यादव ने बेरोजगारों के हित में सेंट्रल पार्क में दौड़ लगाई थी। मैं संविधान में विश्वास रखता हूं। मैं नहीं चाहता कि पब्लिक को किसी भी प्रकार की कोई परेशानी हो। मैं केवल गांधीवादी तरीके से संविधान के दायरे में रहकर विरोध व्यक्त करना चाहता हूं। हम गांधी जी के पद चिन्हों पर चलकर केंद्र और राज्य सरकार को झुकाएंगे। हम सरकार को अपना दम दिखा देंगे। यह सिर्फ ट्रेलर है। हमारी इच्छा शक्ति को देख लीजिए, हमारे अंदर की आग को देख लीजिए। सूर्य उदय से अस्त तक दौड़ कर दिखा दीजिए तो आपको पता चल जाएगा कि कैसे दौड़ा जाता है। हमारे अंदर की आग को कम मत समझिये। इस पर आपको ज्यादा नुकसान उठाना पड़ जाएगा।

विधायक बलजीत यादव ने कहा कि देश के 22 राज्यों में राजस्थान के युवाओं को एक भी रोजगार नहीं मिल पा रहा है। ये 22 राज्यों ने पॉलिसी बनाकर दूसरे स्टेट के बेरोजगार युवकों को भर्ती में नहीं ले रहे, जबकि राजस्थान में दूसरे स्टेट के युवक राजस्थान के युवा का हक खा रहे हैं। राजस्थान सरकार भी बिल लेकर आए, ताकि इससे बाहरी राज्यों के युवकों को यहां रोजगार न मिले। यहां के बेरोजगार युवक सरकारी नौकरी पाएं।

सरकार से कहा गया है कि वह 5 लाख भर्तियां निकालें। 2 महीने में परीक्षा कराएं, 4 महीने में रिजल्ट दें। 6 महीने में नौकरियां दे दें। मैंने पहले भी कहा है कि पेपर लीक की घटनाओं पर रोक लगे। अभी भी कह रहा हूं। बड़ी मछलियों को पकड़ो। छोटे को पकड़कर कुछ नहीं होगा। सरकार ने सिर्फ खानापूर्ति की है।

Written by CITY NEWS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Owaisi will hold a public meeting in Sachin Pilot's stronghold Tonk on February 19, know the political significance

सचिन पायलट के गढ़ टोंक में ओवैसी 19 फरवरी को करेगें जनसभा, जानिए सियासी मायने

Congress protests at all district headquarters of Rajasthan regarding Adani case

अडाणी मामले को लेकर कांग्रेस ने राजस्थान के सभी जिला मुख्यालयों पर किया विरोध प्रदर्शन