देहव्यापार पर कार्यवाही करने गई पुलिस टीम से महिलाओं ने की धक्का-मुक्की, 4 गिरफतार, 3 नाबालिक पकड़े

 
देहव्यापार पर कार्यवाही

बूंदी। सदर थाना इलाके के रामनगर कंजर बस्ती में पुलिस, सीडब्ल्यूसी व बचपन बचाओ एनजीओ ने शनिवार देर रात देह व्यापार पर संयुक्त कार्रवाई की। पुलिस ने पीटा एक्ट के तहत 4 युवकों को को गिरफ्तार किया, जबकि तीन नाबालिको को पकड़ कर सीडब्ल्यूसी के समक्ष पेश किया गया है। इस कार्यवाही के दौरान पुलिस और महिलाओं में जमकर धक्का-मुक्की हुई। पुलिस और महिलाओं के बीच हुई हाथापाई का सारा नजारा सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया।

पुलिस उपाधीक्षक धर्मेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि लंबे समय से रामनगर कंजर बस्ती में देह व्यापार की सूचना मिल रही थी। एनजीओ और सीडब्ल्यूसी की टीम ने शनिवार रात संयुक्त कार्यवाही करते हुए रामनगर कंजर बस्ती के एक मकान पर दबिश दी। कार्यवाही का विरोध करते हुए इस दौरान पुलिस टीम पर पथराव भी किया गया, लेकिन पर्याप्त पुलिस जाब्ता होने से कार्यवाही अंजाम तक पहुंच सकी।

पुलिस ने रामनगर निवासी फोरमेन कंजर, मनीष कंजर, नयापुरा कोटा निवासी मनन भार्गव और कुशराज सिंह को पीटा एक्ट में गिरफ्तार किया। मामले में तीन नाबालिगों को भी पकड़ा है।

अय्याशी के अडडे बने हाईवे पर चल रहे होटल-ढाबें 
बूंदी शहर के आसपास नेशनल हाईवे पर चल रहे होटल-ढाबों पर बड़े पैमाने पर देह व्यापार का गोरखधंधा चलाया जा रहा है। बूंदी और कोटा जिले सहित प्रदेश के अन्य हिस्सो से देह व्यापार करने वाली कई महिलाएं व युवतियां यहां पहुंचती है, जहां कई सफेदपोश अमीरजादें अय्याशी करने पहुंचते हैं। सदर थाना क्षेत्र के रामगंज बालाजी से लेकर हिंडोली तक के ढाबों व होटलों में इसी प्रकार का गोरखधंधा संचालित होता है।