तिजारा रोड़वेज चीफ मैनेजर ड्राइवर से 11 हजार रूपये कि रिश्वत लेते गिरफतार

 
तिजारा रोड़वेज चीफ मैनेजर ड्राइवर से रिश्वत लेते गिरफतार

अलवर। करीब डेढ़ माह तक ड्यूटी पर नहीं आने वाले रोडवेज डिपो के ड्राइवर को ड्यूटी ज्वाइन कराने के लिए डिपो के चीफ मैनेजर कैलाश चंद मीणा ने 35 हजार रुपए रिश्वत की डिमांड। ड्राइवर ने 24 हजार रुपए पहले दे दिए थे। फिर 11 हजार रुपए और मांगे तो एसीबी को शिकायत कर दी। सोमवार शाम को एसीबी ने डिपो चीफ मैनेजर को उसके कार्यालय से रिश्वत की राशि के साथ गिरफ्तार कर लिया।

एसीबी के एएसपी विजय सिंह ने बताया कि रोडवेज ड्राइवर करीब डेढ़ माह तक ड्यूटी पर नहीं आया था। जब ड्यूटी पर आया तो चीफ मैनेजर ने उसे ज्वॉइन नहीं कराया। इसके लिए रिश्वत मांग की। पहले ड्राइवर ने 24 हजार रुपए दे भी दिए। लेकिन 11 हजार रुपए और मांगे तो ड्राइवर ने एसीबी को शिकायत कर दी।

एसीबी ने बताया कि ड्यूटी ज्वाइन कराने के लिए रिश्वत मांगी थी कि एक तो ड्यूटी ज्वाइन हो जाएगी ओर सर्विस रिकॉर्ड सही चलता रहेगा। इसके अलावा चीफ मैनेजर ने रिश्वत लेने के बाद ड्राइवर को ऑफिस में ड्यूटी लगाने का आश्वासन भी दिया था।

सोमवार शाम को ड्राइवर ने चीफ मैनेजर को उसके चैंबर में ही रिश्वत की राशि दी। जैसे ही रिश्वत देकर इशारा किया पहले से तैयार एसीबी की टीम पहुंच गई।  एसीबी की टीम ने चीफ मैनेजर की जेब से राशि बरामद कर उसे गिरफ्तार कर लिया।