सांगोद SHO अवैध भांग का ठेका बंद कराने की एवज में 8000 की रिश्वत लेते ACB ने किया गिरफ्तार

 
 भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो कोटा की टीम के साथ आरोपी
 कोटा। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो कोटा की टीम ने सांगोद थाना अधिकारी पुलिस निरीक्षक को अवैध भांग का ठेका बंद कराने की एवज में 8000 की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया हैै। आरोपी पुलिस निरीक्षक ने सरकारी ठेके की भांग की दुकान को संचालित करने व अवैध रूप से भांग बेचने वालों की अवैध बिक्री को बंद करने की एवज में प्रतिमाह रिश्वत की मांग की तथा तत्काल 10,000 देने पर अवैध दुकान बंद करने का भरोसा भी दिलाया।

आरोपी बदन सिंह मीणा थाना अधिकारी सांगोद

 

एसीबी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ठाकुर चंद्रशील कुमार ने बताया कि परिवादी बलराज सिंह पुत्र रघुवीर सिंह निवासी महावीर नगर तृतीय थाने के पीछे कोटा ने 22 सितंबर को एसीबी चौकी कोटा में उपस्थित होकर एक शिकायत दी, जिसमें बताया कि सांगोद में सरकारी भांग का ठेका हमारे सेठ उदय सिंह जी का है, ठैका 2021-22 का है उक्त अधिकृत भांग का ठेका चलाने के लिए ठेकेदार उदय सिंह ने मुझे अधिकृत कर रखा है। परिवादी द्वारा भांग का ठेका कुंदनपूरा रोड सांगोद जिला कोटा पर चलाया जा रहा है। ठेके के पास ही अवैध रूप से भांग बेची जाती है जिसको बंद करवाने के लिए बदन सिंह थाना अधिकारी सांगोद से मिला तो उन्होंने कोई ध्यान नहीं दिया। इसके बाद परिवादी फिर से थानाधिकारी सांगोद से  अवैध भांग की बिक्री बंद करवाने के लिए मिला तो सीआई बदन सिंह ने सरकारी ठेके की भांग की दुकान को संचालित करने व अवैध रूप से भाग बेचने वालों की अवैध बिक्री को बंद करने के लिए प्रतिमा रिश्वत की मांग की तथा कहा की अभी 10,000 दोगे तो मैं अवैध भांग की दुकान बंद करवा दूंगा। परिवदी ने कहा कि व थाना अधिकारी बदन सिंह को रिश्वत के मंथली नहीं देना चाहता हूं बल्कि उसे रिश्वत लेते पकड़ाना चाहता हूं।  

शिकायत मिलने के बाद एसीबी ने 22 सितंबर को गोपनीय सत्यापन करवाया गया। जिसमें परिवादी से आरोपी बदन सिंह मीणा पुलिस निरीक्षक थानाधिकारी सांगोद जिला कोटा ग्रामीण द्वारा परिवादी की भांग की लाइसेंस दुकान के संचालन व अवैध रूप से भांग बेच रहे व्यक्तियों की बिक्री बंद करवाने की एवज में 10,000 की रिश्वत की मांग की पुष्टि हुई। इस दोरान परिवादी बलराज से उक्त रिश्वत मांग के सत्यापन के दौरान 2000 प्राप्त किए तथा 8000 रिश्वत राशि 23 सितंबर को देना तय हुआ। जिस पर आज गुरुवार 23 सितंबर को ट्रेप कार्यवाही का आयोजन किया गया। ट्रेप कार्यवाही के दौरान आरोपी बदन सिंह मीणा थाना अधिकारी सांगोद जिला कोटा ग्रामीण ने परिवादी को बोरखेड़ा थाने के सामने बारां रोड कोटा मेन रोड पर बुलाया और आरोपी स्वयं की वैगनआर कार से आया और परिवादी से 8000 रिश्वत राशि हाथ में लेकर बगल की फ्रंट सीट पर रखे, जहां से रिश्वत की राशि 8000 एसीबी ने बरामद करके आरोपी बदन सिंह मीणा थाना अधिकारी सांगोद जिला कोटा ग्रामीण को डिटेन कर लिया। अग्रिम कार्यवाही थाना बोरखेड़ा में जारी है।