जयपुर: दस लाख रूपये लूट के दो आरोपी गिरफतार, बदमाशों से 4.50 लाख रूपये बरामद

 
पुलिस उपायुक्त जयपुर उत्तर ने पर्दाफाश किया

जयपुर। राजधानी जयपुपुर के संजय सर्किल थाने में दर्ज दस लाख रूपये की लूट के मामले का पुलिस उपायुक्त जयपुर उत्तर ने पर्दाफाश किया हैं। पुलिस ने दो अभियुक्तो को गिरफ्तार कर बदमाशों के कब्जे से लूट की राशि 4.50 लाख रूपये बरामद की है। 

दस लाख रूपये लूट के दो आरोपी गिरफतार

पुलिस उपायुक्त जयपुर उत्तर देशमुख परिस अनिल ने बताया कि 15 दिसंबर को परिवादी किशन पारिक पुत्र जगदीश प्रसाद निवासी सी-16 चांदपोल मण्डी चांदपाले बाजार जयपुर ने थाना संजय सर्किल पर प्रकरण दर्ज कराया कि में यहां चांदपाले मण्डी में दलाली पर सामान खरीद बेचान का कार्य करता हूं। मेरे चाचा जेठाराम तिवाडी 14 दिसंबर को दस लाख रूपये मुझे देने आये थे। जब चाचाजी मेरे निवास/ऑफिस सी-16 के सामने पहूंचकर रूपयों से भरा बैग लेकर आने के लिए अपनी स्कूटी से उतरे तब वहा पर 2-3 व्यक्ति आये तथा रूपयो का बैग छिनने लगे जब ऑफिस में काम करने वाले लडके हेतराम ने रोकने का प्रयास किया तो उसकी आंखों में मिर्ची पाउडर डाल दिया तथा मेरे चाचाजी ने रोकने का प्रयास किया तो उन्होने हवाई फायर कर दिया तथा रूपयों से भरा बैग लूट कर फरार हो गये। थाना संजय सर्किल जयपुर उत्तर में प्रकरण दर्ज कर अनुसंधान प्रारम्भ किया गया। अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम द्वारा परम्परागत पुलिसिंग एवं आसूचना तंत्र से प्राप्त जानकारी करके मों इरफान पुत्र मोहम्मद रमजान उम्र 34 साल निवासी मकान न. नम्बर 5132 बंधा बस्ती मक्का मस्जिद बडा पार्क के पास नाहरी का नाका पुलिस थाना शास्त्री नगर, जावेद कुरैशी पुत्र जमील अहमद उम्र 28 साल निवासी मकान न. 2029 नमक की मंडी के सामने किशनपोल बाजार पुलिस थाना कोतवाली जयपुर हाल दुकान मालिक रॉयल मोटर्स गोपीनाथ मार्ग जालुपुरा जयपुर द्वारा मध्यप्रदेश से 3 शातिर अफजल कुरेशी पुत्र अकरम कुरेशी उम्र 28 साल निवासी म0न0 21 वार्ड नम्बर 24 मर्दादीन जिला मंदसोर मध्यप्रदेश, दिलदार खान उर्फ बादशाह पुत्र दिलावर खान निवासी भैसा पहाड़ पुलिस थाना सिटी कोतवाली मंदसोर मध्यप्रदेश, असलम उर्फ कालू निवासी नीमच मध्यप्रदेश को जयपुर बुलाकर वारदात करना सामने आया। जिस पर उक्त पांचों की तलाश की गई।

बदमाशों से 4.50 लाख रूपये बरामद

 इस पर गठित पुलिस टीमो द्वारा अभियुक्तगण की तलाश के लिए दिन-रात लगातार अथक प्रयास किये गये। प्राप्त आसूचना पर रविवार को मो. इरफान तथा जावेद कुरैशी को जयपुर से गिरफ्तार किया जाकर दोनो आरोपियों के कब्जे से लूट की राशि 4.50 लाख रूपये बरामद करने में सफलता हासिल की। आरोपी मो. इरफान पुत्र मोहम्म्द रमजान के कब्जे से एक पिस्टल तथा 2.50 लाख रूपये नकद मुल्जिम जावेद कुरैशी पुत्र जमील अहमद 2 लाख रूपये नकद बरामद किये गये।

तरीका वारदात - 
आरोपी मो. इरफान अनाज मण्डी में सी 21 महावीर ट्रेडिंग कम्पनी में काम करता है। जिसने पडौस की दुकान पर रूपये के लेन देन की रैकी की और रैकी करने के बाद रूपये ले जाने की टाईमिंग का पता किया। इरफान ने अपने चाचा के लडके जावेद से सम्पर्क किया और उसको यह सब बताया तो उसने इरफान को बताया कि मंदसौर एमपी के एक बदमाश से मेरी जान पहचान है जो इस काम को करने मे अपनी सहायता कर सकता है। जिसके बाद जावेद ने अफजल उर्फ अज्जू से सम्पर्क कर जयपुर बुला लिया। अफलज मंदसौर से अपने साथ कालू उर्फ असलम व दिलदार को साथ लेकर जयपुर आ गया उसके बाद इरफान, जावेद कालू उर्फ असलम व दिलदार ने बंधा बस्ती शास्त्रीनगर में इरफान के घर बैठकर वारदात की योजना बनाई।

उसके बाद 14 दिसंबर को उक्त लोगो ने मिलकर अनाज मण्डी में शाम के समय अंधेरा होने पर जब परिवादी रूपयों का बैग लेकर दुकान से बाहर निकला तो अफजल ने परिवादी की आंखो में मिर्च पाऊडर डालकर बैग छीन लिया और जब इनका पीछा किया तो इरफान ने हवाई फायर कर दिया और वारदात को अंजाम देकर यह सभी अलग अलग पैदल भाग गये। उसके बाद यह सभी लोग इरफान के घर जाकर एकत्रित हुए जहां पर रूपयो का बंटवारा करके यह लोग टैक्सी कार से अजमेर चले गये। वहां से अफजल उर्फ अज्जू, कालू उर्फ असलम व दिलदार मंदसौर चले गये। इरफान व जावेद जयपुर आ गये।