बूंदी: महिला थाने के निलंबित CI के खिलाफ छेड़छाड़ व आईटी एक्ट में मामला दर्ज

-दहेज प्रताड़ना कि पीड़िता से की अश्लील हरकतें, व्हाट्सएप कॉल करके क्वार्टर पर बुलाया
-आईजी के निर्देश पर मामला दर्ज, एसपी जय यादव ने दिखायी तत्परता, एडिशनल एसपी को सौपी जांच
 
बूंदी: महिला थाने के निलंबित सीआई के खिलाफ छेड़छाड़ व आईटी एक्ट में मामला दर्ज

बूंदी। महिला थाने में तैनात पुलिस निरीक्षक (CI) शौकत खान को पीड़िता से अश्लील हरकत करने और वीडियो कॉल करके परेशान करने के मामले में निलंबित SHO के खिलाफ पीड़िता द्वारा एडिशनल एसपी के समक्ष दर्ज कराए गए बयानों के बाद मामले की गंभीरता को देखते हुए जिला पुलिस अधीक्षक जय यादव ने कोतवाली थानाधिकारी को मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए, जिस पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। मामले की जांच अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक किशोरी लाल कर रहे हैं।

बूंदी महिला थाना अधिकारी शोकत खान को आईजी रविदत्त गौड़ द्वारा 3 दिन पूर्व सस्पेंड कर दिया था। थानाधिकारी शौकत खान ने दहेज प्रताड़ना के मामले में परि वादी महिला से अश्लील हरकतें की और उसके हाथ पैरों को गलत तरीके से छूआ। ओर तो ओर फाईल पर लगी पीडिता की फोटो का चुमा। सीआई ने पीड़िता को व्हाट्सएप कॉल करके अश्लील बातें की और अकेले में अपनी क्वार्टर पर बुलाया। पीड़िता के पिता से नॉनवेज बनवाकर मंगवाया और पीड़िता से वीडियो कॉल पर कहा कि तुम्हारा घर दिखाओ घर की हर तरफ वीडियो कैमरा घुमवा कर के देखा और कहा कि तुम्हारे घर में सबसे खूबसूरत चीज तुम ही हो।

फोन पर बार-बार व्हाट्सएप कॉल करके महिला थाने की जिम्मेदारी संभाल रहा रक्षक ही भक्षक बन कर उससे अश्लील हरकतें करता रहा। यहां तक कि SHO ने बातचीत के दौरान पीड़िता को कमसिन कली और पटाखा तक बता दिया। सारी बातों को पीड़िता ने रिकॉर्ड कर लिया और कांग्रेस नेता चर्मेश शर्मा के साथ कोटा रेंज के आईजी रविदत्त गौड़ से मिलकर मामले की शिकायत दी, उसके बाद आईजी कार्यालय से परिवाद बूंदी एसपी के पास भेज कर त्वरित कार्यवाही के लिए कहा। मामले बुधवार को अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक किशोरी लाल ने पीड़िता के बयान दर्ज किये है। बयान लेने के बाद शौकत खान के विरुद्ध 354 आईटी एक्ट व छेड़छाड़ का मामला दर्ज किया गया हैं। पीड़िता के 163 में बयान दर्ज किए गए। पीड़िता ने अपने बयानों में कहा कि वह महिला थाने में मामला दर्ज नहीं करवाना चाहती। इस पर कोतवाली में मामला दर्ज किया गया है। मामले की जांच बूंदी के एडिशनल एसपी किशोरी लाल को सौंपी गई है।

बेनीवाल ने ट्वीट कर कहा- राजस्थान में खाकी शर्मसार
आरएलपी सुप्रीमो हनुमान बेनीवाल ने भी महिला थाने के एसएचओ पर कार्यवाही की मांग की है। ट्वीट करते हुए बेनीवाल ने कहा कि राजस्थान में खाकी लगातार शर्मसार हो रही है। उदयपुर के बाद बूंदी में शर्मसार करने का मामला सामने आया है। बूंदी महिला थाने के एसएचओ ने दहेज केस में परिवादी महिला के साथ अश्लील हरकत की। इससे राज्य सरकार और पुलिस की कार्यशैली पर बड़ा सवालिया निशान है! रक्षक जब भक्षक बन रहे हैं तो फरियादी कहां जाएंगे? आखिर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कब जागेंगे?