बूंदी: ट्रक चोरी की वारदात का खुलासा, दो चोर गिरफतार, चोरी गया ट्रक बरामद

 
ट्रक चोरी की वारदात का खुलासा

बूंदी। कोतवाली थाना पुलिस ने ट्रक चोरी की वारदात का खुलासा करते हुए चोरी गए ट्रक को बरामद कर दो आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल कि है। पकड़े गए चोरी के दोनों आरोपी मादक पदार्थ स्मेक के आदी हैं। जिसमें आरोपी कपिल मीणा पूर्व में पुलिस अभिरक्षा से फरार भी हो चुका है।

कोतवाली थाना अधिकारी सहदेव सिंह ने बताया कि 21 नवंबर को फरियादी भंवर लाल पुत्र हीरालाल तेली निवासी शिव शक्ति कॉलोनी लाज व्यास हॉस्पिटल के पीछे कोटा रोड बूंदी ने रिपोर्ट दर्ज करवाई जिसने बताया कि उसके एक ट्रक है जो चोरी हो गया है। उसके ट्रक को ड्राइवर बहादुर ने 20 नवंबर शाम शाम 6 बजे करीब मैरिज गार्डन के सामने चित्तौड़ रोड तिराहे के पास खड़ा किया था। जो आज सुबह जाकर देखा तो नहीं मिला। जिस पर पुलिस ने मामला दर्ज कर अनुसंधान शुरू किया।

पुलिस ने घटनास्थल का निरीक्षण कर सभी पहलुओं से जांच करते हुए पेट्रोल पंप पर लगे सीसीटीवी फुटेज देखे व घटनास्थल के आसपास लगे सीसी फुटेज खंगाले। थाना स्तर की टीमें गठित कर एक टीम द्वारा तकनीकी विश्लेषण किया गया। तो वहीं दूसरी टीम द्वारा पुरानी चोरी के चालान सुदा अपराधियों की सूची बनाकर सभी से पूछताछ की गई। इस दौरान मुखबिर से सूचना मिली कि दो व्यक्ति जो स्मेक नशे के आदि है जो ट्रक के सामान बेचने की फिराक में है। सूचना पर दोनों संदिग्धों कपिल मीणा व प्रदीप बैरागी को देवपुरा बूंदी से डिटेन कर पूछताछ की गई तो दोनों ने घटना में वांछित ट्रक चोरी करना स्वीकार किया।

पूछताछ में दोनों ने स्मेक के आदी होने से तलब के चलते रात भर चोरी की फिराक में घूम रहे थे। कुछ नहीं मिला तो प्रदीप बैरागी के पूर्व में ट्रक था और उसे ट्रक चलाना आता है तो रात को 3 बजे मैरिज गार्डन के पास चित्तौड़ रोड के पास से ट्रक चोरी कर कबाड़े में बेचने के लिए ले गए। प्रदीप ट्रक चलाकर ले गया, कपिल मीणा मोटरसाइकिल से आगे आगे चलता हुआ सीलोर से गिरनारा रोड की तरफ सुनसान जगह पर ले जाकर छिपा दिया। स्मेक की तलब पर दोनो ट्रक के पुर्जे बेचने की फिराक में थे। जिन्हें पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया और आरोपियों की निशानदेही से ट्रक बरामद कर लिया है।

कोतवाली पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी कपिल मीणा पूर्व में हिंडोली में चोरी के मामले में गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश करने बूंदी लाते समय पुलिस अभिरक्षा से न्यायालय परिसर से भाग गया था, जो काफी शातिर है। आरोपी कपिल के खिलाफ मारपीट, चोरी, नकबजनी, डकैती की योजना बनाते हथियार सहित पक्ड़ा गया है उसके खिलाफ चार मामले दर्ज है।