बूंदी विवाहिता का अपहरण कर एक महिने बंधक बना किया गेंगरेप, एसपी के दखल पर हुआ केस दर्ज

पीडिता ने एक चिकित्सक ओर एक युवती को भी वारदात में बताया शामिल

 के0पाटन और गुडगांव में सामुहिक दुष्कर्म का आरोप

 
gengrep pidita

बूंदी। जिले के गेंडोली थाना क्षेत्र निवासी एक विवाहिता का अपहरण कर करीब एक महिने तक बंधक बनाकर गेंगरेप करने का मामला सामने आया है। पीड़िता का आरोप है कि वह मामले को लेकर 2 दिन पूर्व गेंडोली थाने गई थी जहां उसकी सुनवाई नहीं होने पर वह आज जिला पुलिस अधीक्षक से मिली। जिला पुलिस अधीक्षक ने मामले को गंभीरता से लेते हुए तुरंत गेंडोली थाना पुलिस को मामला दर्ज कर पीड़िता का मेडिकल करवाने के निर्देश दिए। जिस पर गेंडोली थाना पुलिस ने बूंदी पहुंचकर पीड़िता का मेडिकल करवाया है। पीडिता ने अपनी रिपोर्ट में केशोरायपाटन क्षेत्र में तैनात एक सरकारी चिकित्सक भी वारदात में शामिल होने का जिक्र किया है।

जानकारी के अनुसार पीड़िता ने बताया कि 11 सितंबर को पीड़िता अपने भाई के साथ अपने पीहर से खटकड़ जाने के लिए निकली लगभग दोपहर 3 बजे खटकड़ बस स्टैंड पर पहुंची वहां पीड़िता का भाई ऑटो लेने गया और वह बस स्टैंड पर अकेली खड़ी होकर भाई का इंतजार कर रही थी इसी दौरान हंसराज मीणा और उसके साथ सुरेश, ओम और हंसराज का भाई धर्म और तीन अन्य लोग सफेद रंग की चोपहिया गाडी में आए और उससे कहा कि तेरे भाई (अन्य) का एक्सीडेंट हो गया है, गाड़ी में बैठ। जिस पर पीड़िता उनके साथ गाड़ी में बैठ गई। जब वह पीड़िता को केशोरायपाटन की तरफ ले जाने लगे तो पीड़िता विरोध करते हुए चिल्लाने लगी। इस पर ने हंसते हुए आरोपी हंसराज ने पीड़िता का मुंह दबाकर चाकू गले पर लगा दिया और कहा कि चिल्लाई तो गला काट दूंगा। आरोपी पीड़िता को केशोरायपाटन किसी अनजान जगह पर ले गए जहां पीड़िता को एक कमरे में बंद कर दिया। जिसके बाद आरोपी हंसराज के बड़े पापा का लड़का जो डॉक्टर है और केशोरायपाटन में ही नौकरी करता है। सभी ने चाकू की नोक पर उसके साथ बलात्कार किया।

अगले दिन 12 सितंबर को पीड़िता को आरोपी हंसराज ने धमकी दी कि अगर यह बात किसी को कहीं और करने की कोशिश की तो तुझे तेरे पति बच्चों और भाइयों को जान से मार दूंगा। इसके बाद आरोपी हंसराज ने चाय में नशीला पदार्थ मिलाकर मदहोश कर दिया। इसके बाद आरोपी हंसराज पीड़िता को गुड़गांव अपनी मौसी की लड़की के घर ले गया वहां एक कमरे में बंद करके मोसी की लडकी और हंसराज दोनों उसे बेचने के लिए ग्राहक तलाश करने लगे आरोपी हंसराज ने पीड़िता के पैरों की पायजेब भी खोल ली। यहां गुड़गांव में आरोपी हंसराज लगातार पीड़िता के साथ दुष्कर्म करता रहा और उसकी मोसी की लडकी अनजान लोगों को बुलाकर पैसे लेकर पीडिता से दुष्कर्म करवाती रही तथा ढाई लाख रुपए में पीडिता को बेचने के लिए लोगों से संपर्क करने का आरोप लगाया है।

पीड़िता ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि वह आरोपी हंसराज की जेब से 1000 निकाल कर किसी तरह वहां से मौका पाकर अपने घर पहुंची और पति को पूरी बात बताई। उसके बाद आरोपी हंसराज के घर वाले पीडिता के घर आकर धमकाने लगे जिससे पीड़िता डर गई पीड़िता के भाइयों की हिम्मत दिलाने पर रिपोर्ट दर्ज करवाई है। महिला की 14 सितंबर को गुमशुदगी दर्ज की गई थी। एसपी के दखल के बाद पीडिता की रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर लिया है। पीडिता का मेडिकल भी करवाया गया है।

गेंडोली थाना अधिकारी बुद्धाराम ने बताया कि पीड़िता के द्वारा गेंडोली थाने पर आकर रिपोर्ट देने और पुलिस पर रिपोर्ट फाड़ने का जो आरोप लगाया है वह गलत है। पीड़िता की रिपोर्ट पर धारा 376 डी, 365, 342 आईपीसी में मामला दर्ज कर लिया है। पीड़िता का मेडिकल मुआयना करवाया गया है, मामले की जांच सीओ लाखेरी कर रहे हैं।