भरतपुर: दो पक्षों में चली गोलियां, गोली लगने से पिता-पुत्र की मौत, DM, IG मौके पर पहुंचे

 
दो पक्षों में चली गोलियां

भरतपुर। शहर में गत् रात को दो पक्षों में हुये झगड़े ने तूल पकड़ लिया। उसके बाद रविवार को सुबह दोनों पक्षों में जमकर गोलियां चली, जिससे भरतपुर शहर सहम गया। झगड़े में गोली लगने से दो लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि एक अन्य घायल हो गया। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस प्रशासन तुरंत मौके पर पहुंची और घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

इधर, घटना की जानकारी पाकर जिला कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक मौके पर पहुंचे हैं। गोलीकांड के बाद भरतपुर शहर में सनसनी फैल गई। मौके पर अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है।

पुलिस के मुताबिक फायरिंग की वारदात भरतपुर शहर की सुभाष नगर कॉलोनी में हुई। वहां दो पड़ोसियों के बीच शनिवार रात को शराब के नशे में झगड़ा हो गया था। इस दौरान दोनों पक्षों के बीच हवाई फायर भी किए गए। रविवार सुबह दोनों पक्ष फिर से भिड़ गए। इसमें एक पक्ष ने दूसरे पक्ष के घर में घुसकर फायरिंग कर दी। फायरिंग में एक पक्ष के पिता-पुत्र की मौत हो गई। जबकि दूसरे पक्ष लोग घायल हो गये।

प्रारंभिक जांच में सामने आया कि शनिवार रात को झगड़ा सुभाष नगर निवासी लक्ष्मण और सुरेंद्र पक्ष के बीच हुआ था। शराब के नशे में दोनों झगड़ पड़े। लेकिन स्थानीय लोगों ने उनको समझा बुझाकर झगड़ा शांत करा दिया। एक पक्ष बदले की भावना से सुबह उसने बड़ी वारदात को अंजाम दे दिया।

रविवार को सुबह दोनों पक्षों के बीच फिर से रात की बात को लेकर विवाद हो गया. बताया जा रहा है कि दोनों पक्षों के बीच राजीनामा कराने की बात को लेकर सुरेंद्र के घर अन्य लोगों के साथ लक्ष्मण और उसका बड़ा भाई दिलावर पहुंचे थे. इसी दौरान लक्ष्मण पक्ष के लोगों ने सुरेंद्र और उसके 12वीं कक्षा में पढ़ रहे बेटे सचिन पर ताबड़तोड़ फायर कर दिए।

फायरिंग में सुरेंद्र और उसका बेटा सचिन बुरी तरह से लहूलुहान हो गए। इसी दौरान फायरिंग करने वाले पक्ष के दिलावर के पैर में भी गोली लगी है। सुरेन्द्र और सचिन को तत्काल अस्पताल ले जाया गया, लेकिन वहां चिकित्सकों ने उनको मृत घोषित कर दिया। गोलियों की आवाज सुनकर पूरी कॉलोनी में हड़कंप मच गया। बाद में लोगों ने पुलिस का सूचना दी।

मौके पर पहुंची पुलिस ने पूछताछ के लिए 3 लोगों को हिरासत में लिया है। घटना की जानकारी मिलते ही जिला कलेक्टर हिमांशु गुप्ता और रेंज आईजी प्रसन्न कुमार खमेसरा भी मौके पर पहुंचे। एफएसएल टीम के साथ सभी अधिकारियो ने घटना की जानकारी ली। मौके पर तनाव की स्थिति को देखते हुए भारी पुलिस जाब्ता तैनात किया गया है।