दुष्कर्म के आरोप में बैंक कर्मचारी गिरफ्तार, एटीएम बनाने गई महिला को बहला फुसलाकर किया था रेप

 
dushkrm

बूंदी। सदर थाना पुलिस ने बैंक ऑफ बड़ोदा के एक कर्मचारी को दुष्कर्म के आरोप में जयपुर से गिरफ्तार किया है। दुष्कर्म के दो साल पुराने एक मामले में गिरफ्तार बैंक कर्मचारी को पुलिस ने शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया गया। जहां से कोर्ट ने आरोपी को जेल भेजने के आदेश दे दिए हैं।

बूंदी के बैंक ऑफ बड़ोदा में एक महिला एटीएम बनाने गई थी। वहां पर मौजूद एक कर्मचारी ने महिला को एटीएम बनाने के नाम पर बहला फुसलाकर जान पहचान बढ़ाई। इसके बाद बैंक कर्मचारी धीरे-धीरे महिला से मिलने जुलने लगा। महिला थाने में दी गई रिपोर्ट के अनुसार बैंक कर्मचारी ने शादी का झांसा देकर उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया। पीड़िता के बार-बार कहने के बावजूद भी आरोपी बैंक कर्मचारी उससे शादी करने के लिए टालमटोल करता रहा। आरोपी बैंक कर्मी महिला पर डरा धमकाकर किसी को नहीं बताने का दबाव डालते हुए धमकी देता रहा। पीड़िता ने प्रकरण की जानकारी पुलिस और अपने परिजनों को दी।

आरोपी बैंक कर्मचारी बूंदी के बैंक ऑफ बड़ोदा में पदस्थापित था। इसके बाद उसका तबादला जयपुर में हो गया। सदर थाना पुलिस आरोपी बैंक कर्मचारी को जयपुर से गिरफ्तार करके बूंदी लाई, जहां पर उसे बूंदी कोर्ट में पेश किया गया। आरोपी बैंक कर्मचारी को बूंदी कोर्ट ने जेल भेजने के आदेश दे दिए हैं।

पीड़िता की ओर से वर्ष 2019 में महिला थाने में मामला दर्ज कराया गया, लेकिन पुलिस महिला थाने की जांच से संतुष्ट नहीं थी। इसके बाद सदर थाना पुलिस ने प्रकरण की जांच की। जिसके बाद सदर थाने के कार्यवाहक थानाधिकारी धर्माराम चौधरी ने आरोपी बैंक कर्मचारी रोहित राजोरिया को जयपुर से गिरफ्तार किया।