कांग्रेस नेता के प्राइवेट सुरक्षागार्ड ने कि दिन दहाड़े फायरिंग, इलाके में फैली सनसनी

- पुलिस ने महज एक घंटे में ब्लॉक कांग्रेस महामंत्री व उसके दो साथी किये गिरफ्तार
- तत्काल कार्यवाही पर फिर पुलिस की हुई सराहना
 
Congress leader's private security guard fired in broad daylight, sensation spread in the area

बूंदी। शहर के बाईपास रोड़ पर शुक्रवार को दिनदहाड़े हुई फायरिंग से इलाके में सनसनी फैल गई (Sensation spread in the area due to firing in broad daylight) । पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए नाकाबंदी कर मामले में तीन आरोपियों को डिटेन कर स्कॉर्पियो को भी कब्जे में लिया (By detaining the three accused in the blockade case, Scorpio was also captured) है। जिस पर अनुसंधान जारी है। यह घटना पेट्रोल पंप पर लगे सीसी कैमरे में कैद (The incident was captured in the CC camera installed at the petrol pump.) हो गई। पुरी वारदात का वीडियो सोशल मिडिया पर वायरल हो रहा है। मामला प्रॉपर्टी व्यवसाय एवं पुरानी रंजिश से जुड़ा हुआ है। पुलिस की इस कार्यवाही से लोगो ने राहत कि सांस ली और पुलिस कप्तान और उनकी टीम की एक बार फिर से सरहाना कि गई।

पुलिस ने फरियादी राहुल खंगार पुत्र चन्द्रशेखर खंगार उम्र 24 साल निवासी बाईपास रोड मांजी साहब का कुण्ड के पास बून्दी की रिपोर्ट पर  रामदेव उर्फ देवीलाल नेगाड़ी पुत्र सुरजमल गुर्जर उम्र 45 साल निवासी विषधारी हाल रजतगृह बून्दी, धीरज उर्फ नीरज पुत्र बलवीर सिंह ब्राह्रण उम्र 39 साल निवासी अजिनगर थाना सदर रोहतक हरियाणा, प्रदीप पुत्र चन्दराम जाट उम्र 45 वर्ष निवासी आजादगढ थाना सदर रोहतक (हरियाणा) को डिटेन कर बाद अनुसंधान व पुछताछ के गिरफतार किया है।

जानकारी के मुताबिक बाईपास रोड स्थित लक्ष्मीचंद रेवती लाल पेट्रोल पंप पर बूंदी की ओर से आई एक लाल रंग की होंडा सिटी कार पेट्रोल भरवा कर जैसे ही निकली इसी दरमियान बूंदी की ओर से आयी एक सफेद रंग की स्कार्पियो कार लाल कार के बिलकुल सामने रुकी। स्कॉर्पियो में हिंडोली ब्लॉक कांग्रेस के महामंत्री रामदेव नेगाड़ी व उसके दो साथी बैठे हुए थे। पेट्रोल पंप के सामने जैसे ही स्कार्पियो सवार पहुंचे एक एक कर दो जने स्कॉर्पियो से नीचे उतरे और लाल कार पर एक जने ने दो से तीन फायर कर दिए। इस बीच रामदेव नेगाड़ी भी स्कॉर्पियो से बाहर आए और पूरा नजारा देखते रहे। दोनों प्राईवेट सुरक्षा कर्मी बताये जो कार के पीछे दौड़े, लेकिन अचानक हुई फायरिंग से हौंडा सिटी कार चालक कार को दौड़ाकर कोटा बाईपास की ओर ले भागे। जिसका स्कॉर्पियो सवार पीछा करते हुए छत्रपुरा पहुंच गए। लाल कार में राहुल खंगार, मोनु बैरवा, तनवीर कपुर सवार थे।

इधर, फायरिंग की सूचना मिलने पर कोतवाली थानाधिकारी मय जाप्ते के मौके पर पहुंचे और तत्काल शहर के चारों ओर नाकाबंदी करवाई गई। पुलिस ने पेट्रोल पंप पर लगे सीसीटीवी कैमरों की मदद से फायरिंग करने वालों की पहचान की। पुलिस ने नाकाबंदी के दौरान होंडा सिटी कार व स्कॉर्पियो को अपने कब्जे ले लिया। पुलिस ने तीन लोगों को डिटेन कर पूछताछ की इसके बाद इन्हे गिरफतार कर लिया। 

 उक्त मामले को डोला का झोपड़ा निवासी अवतार उर्फ तारी उर्फ जग्गू सरदार द्वारा देवीलाल पुत्र राम किशन गुर्जर निवासी देवपुरा के जमीनी विवाद को लेकर दी गई सुपारी के मामले से जोड़कर देखा जा रहा है। यह मामला 5 मार्च 2022 को सदर थाना पुलिस ने दर्ज करते हुए राहुल खंगार पुत्र चंद्रशेखर खंगार 24 साल व विजय तंबोली पुत्र रामप्रसाद तंबोली 26 वर्ष निवासी बाईपास माजी सा. का कुंड को आदी को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने इन दोनों के पास से देसी पिस्टल दो जिंदा कारतूस व बटनदार चाकू भी बरामद किया था।