10 वीं की छात्रा को बहला-फुसलाकर किया दुष्कर्म, कोर्ट ने सुनाई 20 साल की सजा

 
आरोपी किशन लाल
 कोटा। जिले के ग्रामीण इलाके में 10वीं की छात्रा से दुष्कर्म करने के दो साल पुराने एक मामले में पोक्सो कोर्ट क्रम 3 ने आरोपी को 20 साल की सजा सुनाते हुए, 33 हजार के अर्थदंड से दंडित किया है।

आरोपी किशनलाल (35) गांव जाटो की खेड़ली थाना सुल्तानपुर, हाल निवासी उदयपुरिया थाना सीसवाली बारां निवासी अपने मकान मालिक की 10वीं कक्षा में पढ़ने वाली 15 साल की नाबालिग को बहला फुसलाकर अपने साथ खातौली, श्योपुर एमपी ले गया, जहां उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया।

विशिष्ठ लोक अभियोजक ललित शर्मा ने बताया कि पीड़िता के परिजन ने मई 2019 को बूढ़ादीत थाने में इस आश्य की रिपोर्ट दर्ज करई थी। जिसमें बताया था, 15 साल की भांजी डेढ़-दो महीने से उनके पास रह रही थी। 25 अप्रैल को वो सुबह 10 बजे घर से कहीं चली गई, आसपास व रिश्तेदारों के यहां तलाश किया लेकिन नहीं मिली। उनको शक है, किशन लाल जो उनके साले के यहां किराए से रहता था, वो भांजी को बहला फुसलाकर भगा ले गया। आरोपी किशन लाल, तीन बेटियों का पिता है।

शिकायत पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर बाद अनुसंधान कोर्ट में चालान पेश किया। सुनवाई के दौरान कोर्ट में 18 गवाहों के बयान हुए।