in

राहुल गांधी को ज्ञापन देने जा रहे बीजेपी कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज, पुलिस ने रोका तो किया पथराव, पूर्व विधायक सहित 14 घायल


कोटा। कोटा में किसान कर्ज माफी (farmer loan waiver in kota) को लेकर बीजेपी कार्यकर्ता राहुल गांधी को ज्ञापन सौंपने (BJP workers handing over memorandum to Rahul Gandhi) जा रहे थे, जिन्हें पुलिस ने रोका तो पथराव कर दिया (Police stopped then pelted stones)। मामला बिगड़ता देख पुलिस ने लाठीचार्ज (police lathi charge) कर दिया। लाठीचार्ज में पूर्व विधायक सहित 14 जने घायल हुए हैं। कुछ पुलिसकर्मियों को भी चोटें आई हैं। 2 कार्यकर्ताओं को हॉस्पिटल भी ले जाया गया है। पुलिस कार्रवाई के विरोध में कार्यकर्ताओं ने धरना भी दिया। पुलिस ने 50 लोगो को गिरफ्तार किया है।

बीजेपी के कार्यकर्ता किसान कर्ज माफी को लेकर ज्ञापन देने कनवास से मोरुकला जा रहे थे। कोटा के आवां दरा चौराहे पर पुलिस ने रोक लिया। किसी कार्यकर्ता ने पुलिसकर्मियो पर पथराव कर दिया। इसके जवाब में पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। 

मंगलवार को पूर्व विधायक हीरालाल नागर ने बताया कि बीजेपी के कार्यकर्ता किसान कर्ज माफी को लेकर ज्ञापन देने कनवास से मोरुकला जा रहे थे। कोटा के आवां दरा चौराहे पर पुलिस ने रोक लिया। इसके बीजेपी कार्यकर्ताओ कि तरफ से पत्थराव होने के थोड़ी देर बाद पुलिस ने लाठियां बरसानी शुरू कर दी। जिसमें विधायक हीरालाल के भी हाथ में चोटें आई हैं तथा 15 जने घायल हुए है। 

सांगोद से पूर्व विधायक हीरालाल नागर की अगुवाई में कार्यकर्ता आवां चौराहे से दरा की तरफ जाने की जिद पर अड़ गए। कार्यकर्ता राहुल गांधी को ज्ञापन देना चाह रहे थे। बीजेपी कार्यकर्ता मंगलवार दोपहर करीब 2 बजे कनवास पेट्रोल पंप पर इकट्ठे हुए थे। यहां से सभी कार्यकर्ता राहुल गांधी को ज्ञापन देने के लिए रवाना हुए। करीब 100 मीटर आगे पुलिस ने उन्हें रोक लिया। यहां पुलिस ने बैरिकेड्स लगा रखे थे। कांग्रेस की झंडी लगी गाड़ियां निकलते देख बीजेपी कार्यकर्ताओं ने आगे जाने की कोशिश की। पुलिस ने फिर उन्हें रोक दिया। इसके विरोध में कार्यकर्ता वहीं धरने पर बैठ गए।

लाठीचार्ज के विरोध में कोटा के आवां चौराहे पर बीजेपी कार्यकर्ता पूर्व विधायक हीरालाल नागर के नेतृत्व में धरने पर बैठ गए। पूर्व विधायक सहित 50 से ज्यादा कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों ने गिरफ्तारी दी। बाद में पुलिस ने उन्हें छोड़ दिया।

दोपहर करीब साढ़े 3 बजे पुलिस के साथ कार्यकर्ताओं की झड़प हो गई। आरोप है कि कुछ कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर पथराव कर दिया। इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर कार्यकर्ताओं को खदेड़ा। आधे घंटे में बीजेपी कार्यकर्ता वापस इकट्ठे होकर सड़क पर धरने पर बैठ गए। शाम करीब साढ़े 5 बजे तक धरना चला। इसके बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं ने गिरफ्तारियां दीं। पुलिस उन्हें गाड़ियों में बैठाकर ले गई। कुछ दूर आगे ले जाकर छोड़ दिया। इनमें पूर्व विधायक हीरालाल नागर, प्रधान जयवीर सिंह, उप प्रधान ओम नगर, ओडिशा किसान मोर्चा जिला अध्यक्ष योगेंद्र नंदवाना, जिला महामंत्री नारायण मित्तल, जिला महामंत्री ललित शर्मा, युवा मोर्चा जिला अध्यक्ष युधिष्ठिर खटाना आदि शामिल थे।

सांगोद थाना सीआई राजेश सोनी ने बताया कि बीजेपी कार्यकर्ता आगे जाना चाह रहे थे। उन्हें रोका गया तो धक्का-मुक्की करने लगे। इसके बाद बीजेपी कार्यकर्ता धरने पर बैठ गए थे। लाठीचार्ज से उन्होंने साफ इनकार किया। उन्होंने कहा कि लाठीचार्ज हुआ ही नहीं तो घायल का सवाल ही नहीं होता। न ही किसी कार्यकर्ता को चोट लगी है, न ही किसी पुलिस वाले को।

Written by CITY NEWS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोटा शहर में भारत जोड़ो यात्रा 8 दिसंबर को अनंतपुरा से होगी शुरू, तैयारी में जुटें धारीवाल

राजस्थान : भारत जोड़ो यात्रा में सीएम गहलोत और सचिन पायलट राहुल गांधी से कदम से कदम मिलाकर चले