in

कोटा में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में उमड़ा जन सैलाब, कोटा के विकास को देखकर अभिभूत, शान्ति धारीवाल की सराहना

कोटा। कोटा में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा (Rahul Gandhi’s Bharat Jodo Yatra in Kota) गुरुवार को प्रातः6.30 बजे कांग्रेस के राष्ट्रीय नेता राहुल गांधी ने यात्रा अनंतपुरा से शुरूआत कर गोबड़िया बावड़ी, आईएल चौराहा, एरोड्रम सर्किल, बड़ चौराहा, स्टेशन, रंगपुर होते हुए गुडली पर जाकर संपन्न हुई कांग्रेस अध्यक्ष रविंद्र त्यागी ने बताया कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा मोदी सरकार द्वारा की जारही देश मे बेहताशा मंहगाई, भारत देश मे नफरत की भावना फैलायी जा रही है। देश के टुकड़े करने की कोशिशें की जारही है साथ ही हिटलरशाही बढ़ती जा रही है। भारत को जोड़ने के लिए राहुल गांधी पूरे भारत वर्ष में भारत को जोड़ने,मजबूत करने के लिए उन्होंने ऐतिहासिक कदम उठाने का यात्रा माध्यम से बीड़ा उठाया है, इससे मोदी सरकार घबराहट में है उनकी पोल जनता के सामने आ चुकी है।

रविन्द्र त्यागी ने कहा कि यात्रा में अपार जन समर्थन, कोटा में उमड़ा जन सैलाब से भाजपाइयों के होश उड़े हुए है किसी न किसी रूप से मोदी सरकार के इशारे पर यात्रा में विघ्न डालने, बदनाम करने, षडयंत्र, आत्महत्या करने जैसे प्रयास किये जा रहे है, उनमें नाकामी मिल रही है। उन्होंने कहा कि कोटा के विकास को देखकर राहुल गांधी ने अभिभूत होकर यूडीएच मंत्री शान्ति धारीवाल की एयरपोर्ट पर नाश्ते के दौरान सराहना की है।

कांग्रेस कमेटी के जिला महासचिव डॉ विजय सोनी ने बताया कि एयरपोर्ट पर लंच के दौरान राहुल गांधी ने शहर अध्यक्ष रविंद्र त्यागी से अलग से कोटा के बारे में विस्तार से चर्चा की। डॉ सोनी ने बताया कि यात्रा में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, पीसीसी अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा, यूडीएच मंत्री शान्ति धारीवाल, केबिनेट मंत्री प्रमोद जैन भाया, शहर अध्यक्ष रविन्द्र त्यागी, पीसीसी महासचिव पंकज मेहता सहित हजारों की संख्या में कांग्रेस जन एवं दिल्ली, जयपुर से वरिष्ठ नेता राहुल गांधी के कदम से कदम मिलाकर चल रहे थे।
 

Written by CITY NEWS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अफीम किसान संघर्ष समिति के पदाधिकारी पहुंचे राहुल गांधी को ज्ञापन देने,निराश होकर लोटे

अनोखा प्रदर्शन : किसानों ने विरोध में भारत जोड़ो यात्रा मार्ग पर बिखेरे लहसुन, राहुल गांधी को वादा याद दिलाने आये थे