in ,

जालोर : ग्रेनाइट फैक्ट्री में बन रही थी टंकी, मिट्टी ढहने से मासूम समेत 5 की मौत

जालोर : ग्रेनाइट फैक्ट्री में बन रही थी टंकी, मिट्टी ढहने से मासूम समेत 5 की मौत

जालोर। शहर के भागली औद्योगिक एरिया में एक नवनिर्मित ग्रेनाइट फैक्ट्री में स्लरी डालने के लिए बनाए जा रही टंकी के निर्माण के दोरान मिट्टी ढहने से नींव भराई का कार्य कर रहे 4 श्रमिकों के साथ एक 3 वर्षीय मासूम की मौत हो गई। घटना के बाद दो जेसीबी मशिन के सहयोग करीब 15 फीट गहरे गड्ढे से मिट्टी व दीवार के पत्थरों को हटाया गया, लेकिन तब तक सभी की मौत के मुंह में समां चुके थे।

जानकारी के अनुसार शहर के औद्योगिक फेज-3 के भागली स्थित चाइना मार्केट में नागौर के भंवरलाल शर्मा की ग्रेनाइट फैक्ट्री का निर्माण कार्य चल रहा था। फैक्ट्री के पीछे की तरफ ग्रेनाइट स्लरी डालने के लिए एक 15 से 18 फीट गहरी टंकी के लिए चारों तरफ दीवार का कार्य किया जा रहा था। इस दौरान शाम करीब 5 बजे चाय पीने के लिए कुछ मजदूर बाहर आ गए, जबकि 4 मजदूर अंदर ही बैठकर चाय पी रहे थे। एक मजदूर की 3 साल की बच्ची भी पास में खेल रही थी। इस दौरान पीछे की फैक्ट्री की दीवार मिट्टी के साथ भरभरा कर गिर गई और मजदूर मिट्टी व दीवार के मलबे के नीचे दब गए।

सूचना पर ग्रेनाइट एसोसिएशन के अध्यक्ष लालसिंह धानपुर मौके पर पहुंचे और 2 जेसीबी की सहायता से मिट्टी हटाकर मजदूरों के शवों को बाहर निकाला। कलेक्टर नम्रता वृष्णि व पुलिस अधीक्षक श्यामसिंह चौधरी समेत उपखंड अधिकारी चंपालाल जीनगर व पुलिस उप अधीक्षक हिम्मत चारण व कोतवाली थानाधिकारी लक्ष्मणसिंह भी मौके पर पहुंचे। शवों को अस्पताल की मोर्चरी में पहुंचाया।

दुखद हादसे में काकरी ढाणी निवासी विक्रम 22 साल पुत्र हीराराम भील, रेवत निवासी दिनेश 21साल पुत्र लुकाराम भील, बारां जिले के साहबाद निवासी सुरमसिंह 27साल पुत्र नंदलाल, बारां जिले के बीलखेड़ा निवासी जानकीलाल 26साल पुत्र तेजाराम तथा 3 साल की मासूम अनुपमा पुत्री सुरमसिंह की मौत हो गई। मासूम अपने पिता सुरमसिंह के पास ही खेल रही थी।

इस एरिया में बालू मिट्टी ज्यादा है। जिस फैक्ट्री में टंकी निर्माण का कार्य चल रहा था, वहां भी बालू मिट्टी ही थी। इस निर्माण कार्य के पीछे संचालित एक फैक्ट्री की दीवार थी, जिसके सहारे ग्रेनाइट के वेस्टेज स्लेब भी रखे हुए थे। जेसीबी से टंकी की खुदाई के दौरान पीछे की फैक्ट्री की दीवार के नीचे से भी खुदाई की गई। जिसके कारण पीछे के फैक्ट्री की दीवार के नीचे से बालू मिट्टी खिसक कर अचानक से दीवार ढह गई।

Written by CITY NEWS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बाड़मेर: शादी के 6 साल बाद नहीं हुए बच्चे, पति ने भाई के साथ पत्नी के प्राइवेट पार्ट को चाकू से चीर दिया

बाड़मेर : कांस्टेबल छत से गिरकर हुआ घायल, सिर में लगी चोट, गंभीर हालत में जोधपुर रेफर किया