in

दहेज प्रताड़ना से तंग आकर तीन बच्चों संग टांके में कूदी विवाहिता, चारों की मौत

जोधपुर। जिले के मतोड़ा थाना (Matoda police station of the district) क्षेत्र में दहेज प्रताड़ना से तंग आकर एक विवाहिता ने अपने तीन बच्चों के साथ खेत में बने टांके में कूदकर जान दे दी (Frustrated by dowry harassment, a married woman along with her three children committed suicide by jumping into a stitch made in the field.)। इसके कुछ देर बाद जब परिजनो को पता चला तो सभी को किसी तरह बाहर निकाला, लेकिन तब तक चारों की मौत (death of all four) हो चुकी थी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। विवाहिता के पिता की रिपोर्ट पर दामाद और परिवार पर बेटी को दहेज के लिए प्रताड़ित कर आत्महत्या के लिए मजबूर करने का मामला दर्ज किया गया है। मृतकों में पांच माह का एक मासूम बच्चा भी शामिल है।

मतोड़ा थानाधिकारी इमरान खान ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि निंबो का तालाब ग्राम में रहने वाले लालाराम भील की पत्नी दुर्गा ने तीन बच्चों के साथ खेत में बने टांके में कूदकर खुदकुशी कर ली। सूचना पर पुलिस के पहुंचने से पहले ही ग्रामीणों व परिजनो ने सभी को बाहर निकाल लिया था, लेकिन तब तक उन चारों की मौत हो चुकी थी। 

मृतक दुर्गा के पिता पुरखाराम ने आरोप लगाया कि उसकी बेटी को दहेज के लिए परेशान किया जा रहा था। करीब पांच साल पहले जब उसका विवाह हुआ था तो उसने अपने सामर्थ्य के अनुरूप दहेज दिया था, लेकिन इसके कुछ दिन बाद से ही बेटी को लगातार परेशान किया जा रहा था। इसी कारण उसने टांके में कूदकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने पुरखराम की रिपोर्ट पर दुर्गा के पति लालाराम भील और अन्य के विरुद्ध मामला दर्ज कर लिया है। शवों का पोस्टमार्टम कर परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया। मामले जांच उपखंड अधिकारी कर रहे है।

 

Written by CITY NEWS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

झालावाड़ दौरे पर वसुंधरा राजे ने विधानसभा चुनाव 2023 को लेकर कहीं ये बड़ी बात

जोधपुर में चार मजदूरों की हौद में डूबने संदिग्ध मौत, सभी मृतक बाड़मेर निवासी