in

राजधानी जयपुर में एलिवेटेड रोड का लोकार्पण, सीएम गहलोत ने कहा- भारत जोड़ो सेतु होगा नाम

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Chief Minister Ashok Gehlot) ने गुरुवार को राजधानी जयपुर में 472 करोड़ रुपये के विकास कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास किया। गहलोत ने 250 करोड की लागत से एलआईसी भवन से सोडाला तक बने एलिवेटेड रोड का लोकार्पण (Elevated road up to Sodala inaugurated) किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने एलिवेटेड रोड़ का नाम ‘भारत जोड़ो सेतु’ रखने की घोषणा की। इसके अलावा सीएम ने 222 करोड़ की लागत की 6 अन्य परियोजनाओं का शिलान्यास भी किया।  

ED raids on many places of architect Anoop Bartaria in Jaipur, investigation continues

लोकार्पण और शिलान्यास समारोह को संबोधित करते हुए गहलोत ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण आई विभिन्न अड़चनों के बावजूद सरकार ने तय समय में एलीवेटेड रोड़ का निर्माण कार्य पूरा किया है। प्रदेशवासियों की खुशहाली सरकार का ध्येय है। विकास की इन योजनाओं के पूर्ण होने से आमजन को सुविधा मिलने के साथ-साथ क्षेत्र में पर्यटन को भी बढ़ावा मिलता है। राज्य सरकार ने यातायात बाधित करने वाले अतिक्रमणों को हटाने, सड़कों के चौड़ाईकरण, नई सड़कों और ब्रिज का निर्माण, आमजन के लिए पार्क उपलब्ध कराने जैसे काम प्राथमिकता से किये हैं। इससे जयपुर सहित राज्य के विभिन्न शहरों में उत्कृष्ट सड़क तंत्र और आधारभूत ढांचे का निर्माण हुआ है।

मुख्यमंत्री ने कहा, सरकार की जन केंद्रित नीतियों और प्रभावी क्रियांवयन से राज्य हर क्षेत्र में प्रगति कर रहा है। राज्य की जीडीपी में तेज गति से बढ़ी है। प्रति व्यक्ति आय में 26.81 प्रतिशत की बढ़ोतरी भी दर्ज की गई है। सरकार द्वारा करीब 3.5 लाख युवाओं को सरकारी नौकरी दी गई है। इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना से शहरी क्षेत्र के बेरोजगारों को राहत देने का कार्य किया जा रहा है। जल्द होने जा रही इन्वेस्ट राजस्थान समिट से लाखों करोड़ का निवेश राजस्थान में आ रहा है। जिससे निजी क्षेत्र में भी रोजगार के अवसर बढ़ेंगे।  

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा राज्य में सभी वंचित वर्गों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए शानदार योजनाएं चलाईं जा रही हैं। चिरंजीवी योजना के माध्यम से आमजन को 10 लाख तक का निःशुल्क उपचार दिया जा रहा है।  साथ ही 5 लाख रुपये का दुर्घटना बीमा भी दिया जा रहा है। प्रदेश सरकार द्वारा आईपीडी, ओपीडी में सभी प्रकार के उपचार निःशुल्क कर दिए गए हैं। सरकार 1 करोड़ प्रदेशवासियों को पेंशन दे रही है।  मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना से 5 लाख से अधिक किसानों का बिजली बिल शून्य किया गया है। प्रदेश सरकार द्वारा 50 यूनिट बिजली मुफ्त देने से 45 लाख घरेलू उपभोक्ताओं का बिजली का बिल जीरो हुआ है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि देश में सभी संप्रदायों के बीच आपसी भाईचारा और सद्भाव देश के विकास के लिए आवश्यक है। सभ्य समाज में हिंसा का कोई स्थान नहीं है। देश में आपसी समरसता स्थापित करने के लिए प्रधानमंत्री मोदी को अपील करनी चाहिए। केंद्रीय एजेंसियों का दुरूपयोग नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि लोकतांत्रिक मूल्यों के संरक्षण में आलोचना और असहमति की महत्वपूर्ण भूमिका है। 

इधर, पूर्व सीएम वसुंधरा राजे ने कहा ट्वीट कर कहा, जयपुर में हवा सड़क-सोड़ाला एलिवेटेड रोड का काम भाजपा सरकार ने वर्ष 2016 में शुरू किया था, जिसे 2019 में पूरा होना था। कांग्रेस सरकार की शिथिल कार्यशैली के कारण इसका काम समय से पूरा नहीं हो सका। खैर देर आए, दुरुस्त आए! मैं जयपुरवासियों को इस एलिवेटेड रोड निर्माण की बधाई देती हूं। खुशी है कि अंबेडकर सर्किल से 22 गोदाम, हवा सड़क होते हुए सोडाला सब्जी मंडी पहुंचने में पहले जहां 25 मिनट का समय लगता था, अब वह सफर महज 10 मिनट में ही पूरा हो जाएगा।

Written by CITY NEWS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

जयपुर में आर्किटेक्ट अनूप बरतरिया के कई ठिकानों पर ईडी का छापा, पड़ताल जारी

दहेज में कार नहीं देने पर विवाहिता के ससुराल वालो ने किया प्रताड़ित, महिला बोली- ननदोई करता है गंदी हरकतें