in

हनुमानगढ : इंदिरा गांधी नहर में गिरने से 4 की मौत, निकली सोची-समझी साजिश, पुलिस ने हत्याओं का किया खुलासा

हनुमानगढ : इंदिरा गांधी नहर में गिरने से 4 की मौत, निकली सोची-समझी साजिश, पुलिस ने हत्याओं का किया खुलासा

हनुमानगढ़। जिले के लखूवाली में इंदिरा गांधी नहर में कार गिरने से 4 जनों की मौत (4 killed in car fall in Indira Gandhi canal in Lakhuwali) के मामले में पुलिस ने गहन अनुसंधान कर 5 महीनों बाद वारदात (Incident after 5 months after thorough research) का खुलासा किया है। पुलिस ने सुनियोजित हत्याओं की वारदात से पर्दा उठाते हुए एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। जबकि आरोपी कार चालक को हाईकोर्ट के आदेश के चलते अभी गिरफ्तार नहीं कर नोटिस दिया है।

इन सनसनीखेज हत्याओं की वारदात का खुलासा करते हुए एसपी प्रीति जैन ने पत्रकारों को बताया कि कार चालक रमेश स्वामी ने मृतक विनोद को अपनी जमीन बेची थी और 15 लाख रुपये नकद लिए थे। बाद में जमीन की कीमत बढ़ने पर उसने जमीन बेचने की बजाय विनोद की हत्या की साजिश रची और चूंकि दोनों में अच्छे सम्बन्ध थे तो मृतक की पुत्री को सीकर से लाने के लिए कार चालक रमेश स्वामी विनोद के साथ सीकर गया और आते समय विनोद, उसकी पुत्री इशिता के साथ विनोद की पत्नी रेणु भी थी और एक परिचित महिला सुनीता भाटी भी सीकर से कार में साथ चढ़ गई।

रास्ते में लखूवाली के पास इंदिरा गांधी नहर के पास चालक रमेश ने लघुशंका के बहाने कार रुकवाई और अपने साथी रामलाल को पहले ही बुला रखा था और फिर दोनों ने कार को नहर में धक्का दे दिया, जिससे डूबने से चारों की मौत हो गयी। उस समय चालक विनोद ने इसको दुर्घटना बताया। लेकिन मृतक विनोद के साले रमेश सिढाना ने चालक रमेश स्वामी पर हत्या का मुकदमा टाऊन थाना में दर्ज करवा दिया, जिसमें पुलिस ने आज चालक के साथी रामलाल को गिरफ्तार कर लिया। जबकि हाईकोर्ट के आदेश के कारण चालक को नोटिस दिया हुआ है, उसकी भी जल्द ही गिरफ्तारी हो सकेगी।

Written by CITY NEWS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

राजस्थान : सरकार की नीतियों के कारण प्रदेश अब रेपिस्तान कहा जाता है, कांग्रेस ने की ऐसी स्थिति – पूजा कपिल मिश्रा

बारां : सरेआम 2 गोली मारी, फिर सड़क पर पटक कर सरिए से तब तक मारता रहा, जब तक सांसें नही थमी और लोग देखते रहे- घटना कैमरे में हुई कैद