in

श्रीगंगानगर : आशिक को दूर जाता देख प्रेमिका ने ऐसी वारदात को दिया अंजाम, जानकर कांप उठेगी रूह

श्रीगंगानगर : आशिक को दूर जाता देख प्रेमिका ने ऐसी वारदात को दिया अंजाम, जानकर कांप उठेगी रूह

श्रीगंगानगर। जिले के केसरीसिंहपुर कस्बे में पिछले दिनों सिर कटी लाश मिलने के मामले में (In the case of getting a beheaded body in Kesarisinghpur town recently) पुलिस को कामियाबी हाथ लगी है। मृतक की पहचान होने के बाद, इस मामले में पुलिस ने एक महिला सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया (Police arrested three people including a woman) है। हत्या का कारण अवैध सम्बन्धो से जुडा सामने आया है।

घटनाक्रम के अनुसार, केसरीसिंहपुर में पाकिस्तान की तरफ जाने वाले एक मार्ग पर स्थित चक 73-एच की हड्डारोड़ी में एक युवक की नग्न अवस्था में सिर कटी लाश मिलने के मामले में पुलिस कई दिनों से अनुसंधान में जुटी हुई थी। इस युवक की हत्या का कारण अवैध संबंध निकला है। मृतक की पहचान अवतारसिंह उर्फ तारी मजहबी सिख (30) निवासी सिरसा (हरियाणा) के रूप में हुई है। उसकी नृशंस हत्या करने के आरोप में चक 3-एच निवासी कुलबिंदरकौर (27), उसके पति सतपालसिंह मजहबी सिख (27) और धर्म भाई संदीप मेघवाल (29) को गिरफ्तार किया गया हैं।

श्रीकरणपुर के डीएसपी सरेंद्रसिंह राठौड़ ने बताया कि मृतक अवतारसिंह के कुलबिंदर कौर के साथ नाजायज संबंध थे। दोनों आपस में मिलते रहते थे। कभी अवतार सिंह चक 3-एच आ जाता था और कभी कुलविंदर कौर सिरसा चली जाया करती थी। लेकिन मृतक अवतार सिंह की पत्नी और परिवार को ये गवारा नहीं हुआ, लिहाजा उसने पुलिस में शिकायत कर दी। जिससे मजबूरी में मृतक अवतार सिंह को अपने परिवार के पास लौटना पड़ा और अपने आशिक को अपने से दूर जाता देख कुलबिंदर कौर ने अवतार सिंह को इस दुनिया से ही दुर करने की साजिश रच डाली।

इस साजिश में उसने अपने पति और मुंहबोले भाई को शामिल किया। इसके बाद कुलविंदर कौर ने अपने आशिक अवतार सिंह को अपने गांव बुलाया और उसके पति और संदीप ने अवतार सिंह को शराब पिलाई और उसे हड्डारोड़ी पर ले गए। कुल्हाड़ी से उसका सिर काट दिया और सभी कपडे उतार लिए। हाथ में पहनी अंगूठी से अवतार सिंह की पहचान नहीं हो जाए इसलिए ऊँगली भी काट दी।

प्रारंभिक पूछताछ में तीनों आरोपियों ने बताया कि कटी हुई गर्दन, कपड़े और उंगली को उन्होंने गंगकैनाल की एफ-नहर में डाल दिया। एफ-नहर काफी बड़ी है। इस नहर में भी दो-तीन छोटी नहर निकलती हैं। इस लिए कटी हुई गर्दन और कपड़ों को ढूंढना बहुत मुश्किल कार्य है। पुलिस फिर भी प्रयास करेगी तो मृतक का मोबाइल फोन भी गायब कर दिया।

उन्होंने बताया कि अभी जांच पड़ताल की जा रही है कि कुलविंदरकौर और अवतार सिंह में जान पहचान कब और कैसे हुई। मृतक अवतारसिंह के दो तीन बच्चे है। लेकिन उसकी पत्नी मनमुटाव के चलते बच्चों सहित अलग रहती है। अवतारसिंह के माता-पिता में भी मनमुटाव है, जो भी अलग-अलग रहते हैं। इस ब्लाइंड मर्डर केस को सुलझा देने पर पुलिस ने राहत की सांस ली है।

Written by CITY NEWS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बारां : सरेआम युवक की नृशंस हत्या के बाद देर रात तक चली समझाइश पर परिजनों ने उठाया शव

करौली : हनीट्रेप गिरोह का पर्दाफाश, मुख्य सरगना व दो महिलाओं सहित चार गिरफ्तार